HEADLINES


More

by : Pramod Goyal
फरीदाबाद - वासुदेव अरोड़ा को भाजपा फ़रीदाबाद में व्यापार प्रकोष्ठ में ज़िला संयोजक नियुक्त किया गया है कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल व ज़िला अध्
यक्ष गोपाल शर्मा ने वासुदेव अरोड़ा को  नियुक्ति पत्र सौंपा इस मौके पर श्री अरोड़ा ने  कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल व जिलाध्यक्ष गोपाल शर्मा का आभार व्यक्त  करते हुए कहा कि  मुझे जो ज़िम्मेदारी दी गयी है इसका में पूरी निष्ठा पूर्वक निर्वाह करूँगा. इस मौके पर अवतार मित्तल, वाई पी भल्ला, जगदीश वर्मा, युगल किशोर श्याम, लाल, सागर भल्ला, नरेश हांडा, बृजेश, नरेश भटेजा, किशन मौगा, सुरजीत सिंह, गुरविंदर सिंह, सुनील आनन्द, वी के उप्पल, दीपक शर्मा, पवन अरोड़ा, हेमंत अरोड़ा, गिराज तंवर ने सयुक्त रूप से श्री अरोड़ा को बधाई  दी
by : Pramod Goyal
फरीदाबाद और बल्लभगढ़ में जगह-जगह लगे कूढे के ढेर बिमारि
यों को न्योता दे रहे। लेकिन न तो नगर निगम अधिकारियों को कुछ दिखाई दे रहा है और न पार्षद और विधायक कुछ देख पा रहे है। बल्लभगढ़ में मलेरना रोड, गंदे नाले के पास, आकाश सिनेमा और मुख्य बाजार के साथ लगते अग्रवाल प्राईमरी स्कूल की दिवार के पास इस कदर कूढे के ढेर एकत्रित हो गए है कि लगता है कि पूरा शहर ही कूढे दान में तबदील हो गया है। गर्मी शुरू होते ही मच्छर भी पनपने शुरू हो गये है और उपर से गंदगी व कूढे के ढेर आने वाले मौसम में बिमारियों को दस्तक देने लगे है। जब से सरकार व उसके प्रतिनिधियों व नगर निगम अधिकारियों ने स्वच्छता अभियान शरू किया और निगम ने कूढा उठाने के लिए निजी कम्पनी इकों ग्राीन को अधिकृत किया है, तक से ही पूरे शहर में सडक़ किनारे कूढे के ढेर लगने शरू हो गए है। नेताओं ने कूढा साफ करते हुए सैल्फी लेकर अखबारों की खूब सुर्खियां तो बटोर ली, लेकिन अब उनकी असलित को यही कूडे की ढेर मुह चिढा रहे है। अगर यही हाल रहा तो फरीदाबाद में महामारी की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता। आम लोग पूछ रहे है कि क्या ऐसा हीं है सरकार का स्व्च्छा अभियान ।
by : Pramod Goyal
अगल-अगल गुटों में बिखरी कांग्रेस को एकजुट करने के लिए कांग्रेस के प्रदेश स्तरीय दिज्गज नेता प्रदेश भर में रोड शो का आयोजन कर रहे है। यह रोड शो फरीदाबाद से 26 मार्च से शुरू होगा, जो पांच दिनों में विभिन्न जिलों में यात्रा तय करेगा। प्रदेश स्तरीय कांग्रेस समन्वय समिति के सदस्य महेन्द्र प्रताप सिंह ने इस रोड शो को कामयाब बनाने के लिए आज अपने फार्म हाऊस पर सभी धडों के कांग्रेसी नेताओं की एक  बैठक बुलाई और उन्हे बताया कि इस रोड शो का उद्देश्य कांगे्रस को मजबूत करने के साथ-साथ जनता में भाजपा की जनविरोधी नीतियों को भी पंहुचाना है। बैठक में पूर्व सांसद अवतार भडाना, विधायक कर्ण दलाल, उदयभान, पूर्व विधायक आनन्द कौशिक, कांग्रेस नेता जे पी नागर, एस एल शर्मा, पूर्व मेयर अशोक अरोडा, पूर्व जिलाध्यक्ष गुलशन बज्गा, सुमित गौड, योगेश गौड, डा. धर्म देव आर्य, सेवा राम वर्मा  सहित सैकडों नेता व कार्यकर्ता मौजूद थे। हालांकि यह रोड शो केवल राष्ट्रीय राजमार्ग तक ही
सीमित रहेगा। लेकिन कार्यकर्ताओं का सुझाव था कि इसे विधानसभा तक भी पंहुचना चाहिए। लोकसभा टिकट की दावेदारी पर कुछ समय के लिए महेन्द्र प्रताप, अवतार भडाना और यशपाल नागर में कुछ तकर्रार भी हुई। लेकिन तभी महेन्द्र प्रताप और अवतार भडाना ने यह कहकर मामला शांत कर दिया कि वे टिकट के दावेदार नहीं है। कांग्रेस हाईकमान ने प्रदेश स्तर पर कांग्रेस को एकजुट करने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा के नेतूत्व में एक समन्वय समिति बनाई है। जिसमें कांग्रेस के सभी धडों के नेताओं को शामिल किया गया है। इस एकता को दिखाने का प्रयास अब पूरे प्रदेश में किया जा रहा है। ताकि जिला स्तर पर गुटों में बटे कांग्रेसी नेता भी एक जुट होकर लोकसभा चुनाव में पूरी ताकत से कांग्रेसी उम्मीदवार को विजयी बनाएं।
by : Pramod Goyal
फरीदाबाद: अरावली पर न जाने कितने भूमाफिया बड़े बड़े खेल खेल रहे हैं और कई जगहों पर सैकड़ों एकड़ पहाड़ पर अवैध दीवार बना कब्जा किया जा रहा है। ये कहना है बार एसोशिएशन के पूर्व प्रधान एवं न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के अध्यक्ष एल एन पराशर का जिन्होंने शुक्रवार को अरावली का दौरा किया और पाली-सूरजकुंड रोड के पास एक ऐसी दीवार देखी जो काफी लम्बी थी। पाराशर ने कहा कि ये दीवार जितनी लम्बी है उसे देख लगता है कि कोई बड़ा माफिया 100 एकड़ से ज्यादा जमीन पर कब्ज़ा कर रहा है।
उन्होंने कहा कि ये दीवार चुपचाप बनाई जा रही है और पहाड़ से पत्थर तोड़कर बनाई जा रही है। पाराशर ने कहा कि 100 एकड़ से ज्यादा जमीन पर कब्ज़ा कर अरबों रूपये का खेल खेला जा रहा है और वन विभाग के अधिकारियों को अब तक ये दीवार नहीं दिखी। उन्होंने खनन विभाग के अधिकारियों पर सवाल उठाते हुए कहा कि इस विभाग के अधिकारी सिर्फ ग्रामीणों पर भारी पड़ते दिखते हैं बड़े माफियाओं पर ये कोई कार्यवाही नहीं करते। पाराशर ने कहा कि बिना खनन विभाग और वन विभाग की मिलीभगत से इतनी लम्बी दीवार नहीं बन सकती है। उन्होंने कहा कि मुझे कुछ लोगों ने बताया कि अरावली पर सैकड़ों एकड़ जमीन पर कोई बड़ा माफिया कब्ज़ा कर रहा है जिसके बाद मैंने शुक्रवार को मौके का जायजा लिया जहां सच में ऐसा हो रहा है और ये दीवार हाल में ही खड़ी की गई है। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों ने ही हरियाणा सरकार से मिलकर पीएलपीए ऐक्ट बदलवाना चाहा ताकि ये खुलकर अरावली को लूट सकें और वहां बड़े बड़े होटल और फ़ार्म हाउस बनवा सकें।

उन्होंने कहा कि  अरावली के पहाड़ों पर पेड़ों की कटाई और निर्माण जारी हैं और लगता है कि एक बड़ा खेल खेला गया है और  सरकार ने बिल्डरों को फायदा पहुंचाने के लिए बड़ा घोटाला किया है। उन्होंने कहा कि इन माफियाओं को लूट ला लाइसेंस किसने दिया ये जांच का विषय है। उन्होंने कहा कि जिस निर्माण की तस्वीरें और वीडियो मैं शुक्रवार को जारी कर रहा हूँ ये उन निर्माणों से अलग है जिनकी तस्वीरें मैंने पहले जारी की थीं। उन्होंने कहा कि इस निर्माण की शिकायत मैं सूरजकुंड थाने में करूंगा क्यू कि मुख्य वन विभाग, खनन विभाग और नगर निगम पर भरोषा नहीं है। उन्होंने कहा कि हाल  सुप्रीम कोर्ट ने अरावली मामले की सुनवाई के दौरान हरियाणा सरकार को चेतावनी देते हुए कहा था कि अगर अरावली हिल के जंगल वाले इलाके में कुछ भी करने की कोशिश की, तो वह गंभीर परेशानी में आ जाएगी लेकिन हरियाणा सरकार पर इस चेतावनी का कोई असर नहीं दिख रहा है। भूमाफियाओं का खेल जारी है।
by : Pramod Goyal
फरीदाबाद। 
राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सराय ख्वाजा की जूनियर रेड क्रॉस और सेंट जॉन एम्बुलैंस ब्रिगेड ने प्राचार्या नीलम कौशिक की अगुआई में अंग्रेजी प्रवक्ता, जूनियर रेड क्रॉस व ब्रिगेड अधिकारी रविन्द्र कुमार मनचन्दा ने विश्व जल दिवस पर जल के बुद्धिमतापूर्ण उपयोग पर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया। उन्होंने कहा कि वर्ष 1933 से विश्व भर में जल दिवस को लेकर कार्यक्रमों में विश्व जल दिवस के अवसर पर विभिन्न गतिविधियां चलाई जाती हैं। इस बात पर सभी ने सहमति व्यक्त की कि वृक्ष तथा पानी जैसे प्राकृतिक संसाधनों के प्रति हमारे मन में श्रद्धा होनी चाहिए। रविन्द्र कुमार मनचन्दा ने कहा कि पूरे विश्व के लोगों द्वारा हर वर्ष 22 मार्च को विश्व जल दिवस मनाया जाता है। वर्ष 1993 में संयुक्त राष्ट्र की सामान्य सभा के द्वारा इस दिन को एक वार्षिक कार्यक्रम के रुप में मनाने का निर्णय किया गया। लोगों के बीच जल का महत्व, आवश्यकता और संरक्षण के बारे में जागरुकता बढ़ाने के लिये हर वर्ष 22 मार्च को विश्व जल दिवस के रुप में मनाने के लिये इस अभियान की घोषणा की गयी थी। इसे पहली बार वर्ष 1992 में ब्राजील के रियो डी जेनेरियो में “पर्यावरण और विकास पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन” की अनुसूची 21 में आधिकारिक रुप से जोड़ा गया था और पूरे दिन के लिये अपने नल के गलत उपयोग को रोकने के द्वारा जल संरक्षण में उनकी सहायता प्राप्त करने के साथ ही प्रोत्साहित करने के लिये वर्ष 1993 से इस उत्सव को मनाना शुरु किया।
by : Pramod Goyal
फरीदाबाद, 22 मार्च। जिस स्कूल का एस्टेट ऑफिसर हुडा ने नियमों के उल्लंघन पर भूमि आवंटन रद्द यानी रिज्यूम कर दिया है उसी स्कूल में प्रशासक हुडा फरीदाबाद ने मुख्य अतिथि के रूप में भाग लेकर स्कूल प्रबंधन को संरक्षण प्रदान किया है। हरियाणा अभिभावक एकता मंच ने इस पर नाराजगी प्रकट करते हुए हुडा प्रशासक को पत्र लिखा है। इसके अलावा हुडा विभाग के चेयरमैन व मुख्यमंत्री हरियाणा मनोहर लाल को भी पत्र की प्रति भेज कर उचित कार्रवाई करने की
मांग की है। मंच के जिला अध्यक्ष एडवोकेट शिव कुमार जोशी व जिला सचिव डॉ मनोज शर्मा ने बताया है कि हुडा से रैयायती दर पर 99 साल के पट्टे पर सरकारी जमीन पर स्कूल बनाने वालों के लिए हुडा ने कई शर्तें लागू कर रखी है, जिनमें अपने स्कूल में 20ः दाखिला गरीब पिछड़े व मेधावी छात्रों को देकर उनसे सरकारी स्कूलों की भांति फीस लेना, अपने स्कूल के नजदीक के बच्चों को पहले दाखिला देना स्कूल मैनेजमेंट में हुडा का एक प्रतिनिधि शामिल करना, अपने स्कूल के अंदर किसी भी प्रकार की दुकान आदि व्यवसायिक गतिविधियां न करना आदि शामिल है। इन नियमों का उल्लंघन सही पाए जाने पर एस्टेट ऑफिसर हुडा फरीदाबाद ने डीपीएस, एमवीएन, रैयान, डीएवी सहित दर्जनों का भूमि आवंटन रद्द कर रिज्यूम कर दिया। जिसके खिलाफ स्कूल प्रबंधकों ने अपील अधिकारी हुडा प्रशासक के खिलाफ अपील दायर कर रखी है जिनपर फैसला आना बाकी है। बुधवार को अपील अधिकारी हुडा प्रशासक ने अपील करने वाले डीएवी स्कूल 14 के एक कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि के रूप में भाग लेकर संरक्षण प्रदान किया है जो किसी भी प्रकार से न्यायसंगत नही है। मंच ने इसे काफी गंभीरता से लिया है मंच का मानना है कि इससे अपीलार्थी को फायदा हो सकता है।
by : Pramod Goyal
फरीदाबाद।  अमर शहीद वीरांगना महारानी अवंती बाई लोधी चौक, एनआईटी फरीदाबाद में लोधी राजपूत जन कल्याण समिति रजि फरीदाबाद द्वारा प्रथम स्वाधीनता संग्राम की अग्रणी प्रणेता अमर शहीद वीरांगना महारानी  अवंतीबाई लोधी की 161वां बलिदान दिवस समारोह मनाया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि श्री भुवनेशवर हिन्दूस्तानी एवं समिति के संस्थापक, लाखन सिंह लोधी ने शहीद की जीवनी पर प्रकाश डालते हुए बताया कि महारानी का जन्म 16 अगस्त  1831 को मनकैडी के राव जुझार सिंह लोधी के परिवार में हुआ था। इनका विवाह रामगण मण्डला मध्य प्रदेश के राजा विक्रमादित्य लोधी के साथ हुआ। इनके दो पुत्र शेर सिंह और अमान सिंह हुए। 1857 की क्रान्ति की आग पूरे देश में फैल चुकी थी। रानी ने भी स्वतंत्रता संग्राम में अंग्रजों के विरूद्ध एकजुट होकर लडने के लिए संदेश जमीदारों, माल गुजारों, मुखियाओ को निम्र प्रकारण पत्र भेजे एक कागज का टुकडा और सादा कांच की चूडिया भिजवाई का
गज पर लिखा था कि देश की रक्षा  या चूडी पहनकर घर में बैठो। रानी ने अपने राज्य और आसपास से अंग्रेजों का भगाना शुरू कर दिया। इसका उल्लेखन धम्मन सिंह की कृति अवंतीबाई काव्य रानी के समकालीन मदन भटट के छन्दों में एफ आर आर रेडमैन आईसीएस द्वारा सम्पादित मण्डला गजेटिर 1912 में, सूचना प्रसारण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा प्रकाशित महिलाएं और स्वराज पृष्ठ 65 पर इसी मंत्रालय  द्वारा सन सतावन के भूले बिसरे शहीद। लैफ्टिेंट कालबर्न के साथ कई युद्ध हुए। इसी बीच एक युद्ध में कैप्टन वाडिंगटन का एक बच्चा रह जाने पर  रानी द्वारा अपने सैनिकों से जबलपुर दावनी में पहुचंाया गया प्रभावित होकर वाडिगटन ने रानी को बगावत छोडने के बदले राज्य वापिसी की पेशकश की गयी। लेकिन रानी ने स्पष्ट से मना कर दिया।
लाखन सिंह लोधी ने बताया कि उस समय मेजर अर्सकिन जबलपुर पत्र व्यवहार की फाईल  1० और 33/1857 जिसमें लिखा कि सभी के साथ 4००० विद्रोही ही मिल चुके। अन्तिम युद्ध के समय सामने से वाडिंगटन बाये से लैफ्टिैनेट बार्टन, दाये से लैफ्टिेनेट कालवर्न और पीछे से देशद्रोही रीवा  ने आक्रमण किया। देवहारगढ की पहाडियों में 18 दिनों तक छापामार युद्ध होने के पश्चात 2० मार्च 1858 को रानी ने  आत्मबलिदान कर देश पर शहीद हो गयी।
by : Pramod Goyal
फरीदाबाद,।   जिला में  मलेरिया ना फैले इसके लिए विभिन्न विभागो के अधिकारियो को भी जिम्मेदारी मिले ,उसे यथाशिघ्र पूरा करना सुनिश्चित करे। यह बात अतिरिक्त उपायुक्त धर्मेन्द्र सिंह ने जिला स्तरीय बैठक मे उपस्थित अधिकारियो को सम्बोधित करते हुए कही। वे बुधवार को जिला स्तरीय एक्शन टेक्कन  कमेटी की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।बैठक का आयोजन स्वास्थ्य विभाग द्वारा किया गया।         अतिरिक्त उपायुकत ने स्वास्थ्य,नगर निगम ,हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण,जन स्वास्थ्य अ
भियान्त्रिकी,कृषि,महिला एवं बाल विकास ,सिचाई,डेयरी एवं पशु पालन,जिला विकास एवं पंचायत ,सूचना जन संपर्क एवं भाषा,राज्य परिवहन तथा शिक्षा विभाग सहित सम्बन्धित अधिकारियों को उनके विभाग से सम्बन्धि जिम्मेदारियो बारे एक करके विस्तार पूर्वक अवगत करवाया।         जिला उप सिविल सर्जन ने बताया कि मलेरिया बुखार मच्छरों के काटने से फैलता है। मच्छर ना फैले इसके कही भी गन्दा पानी इक्कठा ना होने दे। पूराने टायरो  आदि मे पानी कई दिनो तक न रहने दे।कूलरो ,पानी की टंकियो की नियमित साफ -सफाई करे। उन्होने कहा कि अपने आस पास स्वच्छता बनाए रखे।मच्छर गन्दगी मे ज्यादा फैलता है।                 
by : Pramod Goyal
फरीदाबाद। पूर्व सांसद अवतार सिंह भड़ाना ने बुधवार को सेक्टर-19 स्थित अपने कार्यालय का उद्घाटन कर एक भव्य होली मिलन समारोह का आयोजन किया। इस अवसर पर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष डा. अशोक तंवर ने श्री भड़ाना के कार्यालय का रिबन काटकर उद्घाटन किया और भड़ाना सहित समूचे क्षेत्र की जनता को होली की बधाई दी। उन्होंने कहा कि देश व प्रदेश की जनता ने राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाने की ठान ली है। चुनाव का डंका बज चुका है, कांग्रेस अपनी पुरानी उपलब्धियों और मौजूदा सरकार की जनविरोधी नीतियों को लेकर जनता के बीच में जाएगी, हरियाणा में लोकसभा की सभी दसों सीटें जीतकर विजयी परचम लहराएगी। उन्होने कहा कि कांग्रेस में कोई गुटबंदी नहीं है, सभी नेता देश व प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनाने के लिए एकजुट है। आगामी 26 से 30 मार्च तक एक रथ में सभी
प्रदेश के नेता सवार होकर पूरे हरियाणा का दौरा करेंगे और इस यात्रा की शुरुआत फरीदाबाद जिले से होगी। यात्रा की तैयारियों को लेकर 23 मार्च को अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के दिल्ली स्थित कार्यालय पर एक बैठक का आयोजन किया गया है, जिसमें विधायक, पूर्व विधायक, पूर्व सांसद, पूर्वमंत्री सहित संगठन के सभी पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं को आमंत्रित किया गया है। इस मौके पर पूर्व सांसद अवतार सिंह भड़ाना ने कहा कि उन्होंने फरीदाबाद के रुप में अपने घर में वापसी की है, बेशक वह भाजपा में जरुर चले गए थे परंतु उनका मन हमेशा कांग्रेस में ही रहा है। उन्होंने कहा कि समाज की छत्तीस बिरादरी उनके माता-पिता है और उनकी सेवा करने के उद्देश्य से वह यहां आए और क्षेत्र के दलित, पिछड़ों व गरीबों के हितों के लिए संघर्ष करने का रास्ता चुना है।  श्री भड़ाना ने कहा कि वह अब एक कार्यकर्ता के रुप में कांग्रेस की सेवा करेंगे और उनका लक्ष्य प्रदेश की सभी दसों लोकसभा सीटें पार्टी को जितवाने का है, जिसको लेकर उन्होंने एक पॉलिसी बनाकर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को सौंपी थी, जिस पर काम शुरु हो गया है और 26 मार्च से उन सभी सत्तापक्ष के लोगों का मुंह बंद हो जाएगा, जो यह कहते नहीं थकते कि कांग्रेस में गुटबाजी है। पूर्व सांसद भड़ाना ने कहा कि जहां तक बात लोकसभा चुनाव की है, पार्टी जिसे भी प्रत्याशी के रुप में चुनावी मैदान में उतारेगी वह उसके साथ तन-मन-धन से समर्थन करते हुए उसे जिताने का कार्य करेंगे। इस दौरान अवतार भड़ाना ने केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर व उनके मामा पर जमकर प्रहार करते हुए कहा कि उनकी लचर कार्यशैली के चलते आज फरीदाबाद क्षेत्र विकास के मामले में पिछड़ गया है परंतु अब समूची कांग्रेस एकजुट है और जब कांग्रेस एकजुट हो जाती है तो कोई भी उसके सामने नहीं टिक पाता। उन्होंने कहा कि इस बार फरीदाबाद में छठे चरण में चुनाव है और इन मामा-भांजे को इस बार अच्छी तरह सबक सिखाने का काम क्षेत्र की जनता करेगी। इससे पहले पूर्व सांसद अवतार भड़ाना, उनकी धर्मपत्नी ममता भड़ाना व बेटे अर्जुन भड़ाना ने सभी आगुंतकों का तिलक लगाकर व फूलों से भव्य स्वागत किया। इस अवसर पर पूरे लोकसभा क्षेत्र से आए सभी कांग्रेसी कार्यकर्ताओं, मौजिज सरदारी, सामाजिक धार्मिक संगठन के लोगों सहित गांवों के पंच-सरपंच सहित आम लोगों ने भाईचारे के प्रतीक होली के त्यौहार को मिलजुलकर मनाया। इस अवसर पर पूर्वमंत्री ए.सी. चौधरी, पूर्व विधायक आनंद कौशिक, मोहम्मद बिलाल, पूर्वमंत्री महेंद्र प्रताप के पुत्र विवेक प्रताप, योगेश गौड़, भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ऋषिपाल अंबावला, विकास चौधरी, सुमित गौड़, बलजीत कौशिक, राकेश भड़ाना, सरदार परमजीत सिंह गुलाटी, डा.राधा नरुला, सतबीर डागर, प्रवेश मेहता, पलवल के पूर्व जिलाध्यक्ष हरेंद्र पाल राणा,  पूर्व महापौर राजेंद्र भामला, इंद्रपाल दलाल, डा. हरप्रसाद अत्री, सीमा जैन, सविता चौधरी, प्रहलाद शर्मा, पप्पी चेयरमैन, पुष्कर सरपंच, राजेश खटाना, विकास वर्मा नंबरदार, आजाद भड़ाना, महंत कैलाशनाथ हठयोगी, सुनील बीसला, नेत्रपाल अधाना, सुनील चेयरमैन, नीरज गुप्ता, अहसान कुरैशी, हरेंद्र नागर, सुरेश अधाना, आस मोहम्मद, धीरज सरपंच, ओमबीर चौधरी, शिवशंकर भारद्वाज सहित समूचे लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस कार्यकर्ता व मौजिज लोग मौजूद थे।