HEADLINES


More

by : pramod goyal
फरीदाबाद दिल्ली बॉर्डर पर आज भी पुलिस की सख्ती  देखने को मिली । एसीपी सुखबीर सिंह की निगरानी में पुलिस का कड़ा पहरा बॉर्डर पर लगाया गया है और बिना ई पास के दिल्ली से आ रहे लोगों को फरीदाबाद में दाखिल नहीं होने दिया जा रहा है । पुलिस द्वारा  आ
वश्यक  वस्तुओं की सप्लाई  के वाहनों को ही आने दिया जा रहा है ।
 दिखाई दे रहा यह नजारा फरीदाबाद -  दिल्ली बॉर्डर का है जहां बड़ी मुस्तैदी से एसीपी की निगरानी में सिर्फ ई पास धारकों को और आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई के वाहनों को ही फरीदाबाद आने की इजाजत दी जा रही है जबकि बाकी सभी वाहनों को वापस लुटाया जा रहा है । पुलिस  पार्टी के साथ मौजूद एसीपी सुखबीर सिंह ने बताया कि सिर्फ ई पास वालों और आवश्यक वस्तुओं और जरूरी सेवाओं वाले वाहनों को फरीदाबाद में आने की इजाजत दी जा रही है जबकि अन्य दूसरों को वापस लुटाया जा रहा है । उन्होंने बताया की दिल्ली पुलिस हरियाणा पुलिस की कोई मदद नहीं कर रही है  और ना ही  वह  फरीदाबाद की तरफ आने वाले वाहनों को  रोक रही है जिसकी वजह से हरियाणा पुलिस को ज्यादा मेहनत करनी पड़ रही है ।
by : pramod goyal
फरीदाबाद, 30 मई। सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष लांबा ने कहा कि अगर बिजली का निजीकरण हुआ तो बिजली की दरों में भारी बढ़ोतरी होगी। सब्सिडी व क्रास सब्सिडी खत्म हो जाएगी और बिजली किसानों व घरेलू उपभोक्ताओं की पहुंच से बाहर हो जाएगी। उन्होंने कहा कि बिजली कर्मचारी एवं इंजीनियर किसानों, घरेलू उपभोक्ताओं व कर्मचारी विरोधी बिजली निजीकरण संशोधन बिल 2020 के खिलाफ 1 जून को काला दिवस म
नाएंगे। उन्होंने यह आह्वान शनिवार को सेक्टर-7 में जिला कार्यालय में आयोजित आल हरियाणा पावर कारपोरेशनज वर्कर यूनियन की एनआईटी यूनिट कार्यकारिणी की मीटिंग में बोलते हुए किया। यूनिट प्रधान भूपसिंह कौशिक की अध्यक्षता में आयोजित इस मीटिंग में यूनिट एवं सब यूनिटों के पदाधिकारियों ने भाग लिया। यूनिट सचिव गिरीश राजपूत द्वारा संचालित इस मीटिंग में 1 जून को बिजली कर्मचारी काली पट्टी / काले बिल्ले लगाकर सर्कल की सभी सब डिवीजन स्तर पर काले बिल्ले लगाकर प्रर्दशन करने का फैसला लिया गया है। मीटिंग में सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष लांबा व सर्कल सचिव अशोक कुमार मौजूद थे। मीटिंग में सभी सब डिवीजनों में यूनिट कमेटी के पदाधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई। मीटिंग में सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के आह्वान पर 4 जून को ब्लाक व जिला मुख्यालय पर होने वाले विरोध प्रदर्शन में शामिल होने का निर्णय लिया गया।

सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष एवं आल हरियाणा पावर कारपोरेशनज वर्कर यूनियन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष  सुभाष लांबा ने मीटिंग में बोलते हुए कहा कि केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा बिजली वितरण के निजीकरण की घोषणा में कहा गया है कि नई टैरिफ नीति में सब्सिडी व क्रास सब्सिडी समाप्त कर दी जाएगी और किसी को भी लागत से कम मूल्य पर बिजली नहीं दी जाएगी। उन्होंने बताया कि अभी किसानों, गरीबी रेखा के नीचे और 500 यूनिट प्रति माह बिजली खर्च करने वाले उपभोक्ताओं को सब्सिडी मिलती है, जिसके चलते इन उपभोक्ताओं को लागत से कम मूल्य पर बिजली मिल रही है। अब नई नीति और निजीकरण के बाद सब्सिडी समाप्त होने से स्वाभाविक तौर पर इन उपभोक्ताओं के लिए बिजली महंगी होगी। उन्होंने आँकड़े देते हुए बताया कि बिजली की लागत का राष्ट्रीय औसत रुपए  6.73 प्रति यूनिट है और निजी कंपनी द्वारा एक्ट के अनुसार कम से कम 16 प्रतिशत मुनाफा लेने के बाद रु.8 प्रति यूनिट से कम दर पर बिजली किसी को नहीं मिलेगी। इस प्रकार एक किसान को लगभग 6000 रु. प्रति माह और घरेलू उपभोक्ताओं को 6000 से 8000 रु. प्रति माह तक बिजली बिल देना होगा। उन्होंने कहा कि निजी वितरण कंपनियों को कोई घाटा न हो इसीलिये सब्सिडी समाप्त कर प्रीपेड मीटर लगाए जाने की योजना लाई जा रही है। अभी सरकारी कंपनी घाटा उठाकर किसानों और उपभोक्ताओं को बिजली देती है। उन्होंने कहाकि सब्सिडी समाप्त होने से किसानों और आम लोगों को भारी नुकसान होगा जबकि क्रास सब्सिडी समाप्त होने से उद्योगों और बड़े व्यावसायिक प्रतिष्ठानों को लाभ होगा।

by : pramod goyal
फरीदाबाद।
पुलिस आयुक्त श्री केके राव के दिशा निर्देश पर कार्य करते हुए दयालबाग चौकी इंचार्ज एसआई हरकेश व उनकी टीम ने अपराधों पर अंकुश लगाते हुए तीन बदमाशों को हथियार सहित दबोचने में कामयाबी हासिल की है।

 *गिरफ्तार आरोपी* 

1. जितेंद्र उर्फ जीतू पुत्र खूब सिंह बुध विहार बदरपुर दिल्ली।

2. गुलशन उर्फ टोनी पुत्र श्री अमरनाथ निवासी मुरादाबाद हाल किराएदार दयालबाग फरीदाबाद।

3. आकाश उर्फ डाकू पुत्र छत्रपाल निवासी शिव दुर्गा विहार लक्कड़पुर फरीदाबाद।

प्रभारी चौकी इंचार्ज दयालबाग एसआई हरकेश ने बताया कि उपरोक्त तीनों बदमाशों को विशेष सूत्रों से मिली सूचना के आधार पर गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि दबोचे गए बदमाशों से तीन देसी कट्टे एवं छह जिंदा कारतूस बरामद किए गए हैं,,,, तीनों आरोपियों को आज अदालत में पेश कर जेल भेजा गया है।

उन्होंने बताया कि पुलिस अपराधी किस्म के लोगों एवं संदिग्ध लोगों पर विशेष नजर बनाए हुए हैं।

by : pramod goyal
फरीदाबाद, 29 मई। कोविड-19 महामारी व लॉकडाउन की परिस्थितियों में प्रवासी लोगों की मदद करते हुए हरिया
णा सरकार की ओर से उन्हें उनके गृह राज्यों को भेजा जा रहा है। प्रवासी लोगों के लिए ट्रेन व बसों की व्यवस्था की जा रही है तथा सभी को खाने-पीने के सामान के साथ-साथ यात्रा का किराया भी सरकार की ओर से दिया जा रहा है।
उपायुक्त यशपाल ने बताया कि ओल्ड फरीदाबाद से शुक्रवार को दो ट्रेन रवाना की गई। पहली ट्रेन पूर्णिया, बिहार भेजी गई, जिसमें करीब 1383 यात्री थे तथा दूसरी ट्रेन भागलपुर बिहार भेजी गई जिसमें करीब 1450 यात्री थे। उन्होंने बताया कि ई-दिशा पोर्टल पर पंजीकरण करने वाले प्रवासी लोगों को भेजने की प्रक्रिया जारी है। उन्होंने बताया कि सबसे पहले श्रमिकों को उनके गृह राज्य भेजने के लिए फोन से सूचना भेजी गई तथा उन्हें नजदीक के शैल्टर होम में इक्ट्ठा किया गया, जहां पर सभी की मेडिकल जांच की गई। सभी प्रवासी श्रमिकों को वहां पर भोजन दिया गया तथा सभी को माॅस्क उपलब्ध कराए गए। उन्होंने बताया कि सभी श्रमिकों को सोशल डिस्टेंसिंग व मास्क उपयोग करने बारे जागरूक किया गया तथा बताया गया कि कोरोना संक्रमण का फैलाव रोकने के लिए अपने हाथों को निरंतर साफ करते रहेें। उपायुक्त ने प्रवासी लोगों का आह्वान कि कोरोना की परिस्थितियां सामान्य होने पर वे फिर से औद्योगिक नगरी फरीदाबाद आएं तथा देश-प्रदेश के विकास में अपना सहयोग करें। उन्होंने सभी यात्रियों के अच्छे स्वास्थ्य व सुरक्षित यात्रा की कामना भी की। प्रवासी लोगों को ट्रेन से भेजने की पूरी व्यवस्था एसडीएम अमित कुमार व पंकज सेतिया व उनकी टीम द्वारा की गई। इस अवसर पर एसीपी अभिमन्यु लोहान, डीसीपी सीआईडी सुमित सहगल व रेलवे अधिकारी मधुकांत भी उपस्थित थे।
by : pramod goyal
फरीदाबाद, 29 मई। अतिरिक्त मुख्य सचिव स्वास्थ विभाग राजीव अरोड़ा ने अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ आकर जिले के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक के दौरान यह निर्णय लिया गया कि लोगों को सीधे सूचनाएं प्राप्त करने के लिए एक अच्छा तंत्र विकसित किया जाए। प्रत्येक व्यक्ति को कहां पर जाकर टेस्ट करवाना है तथा प्राइवेट लैब कौन-कौन सी हैं और उनके क्या चार्जेज हैं, यह सब सूचनाएं पोर्टल के माध्यम से उपलब्ध होनी चाहिए। इसके अतिरिक्त जिस भी व्यक्ति की जांच में संक्रमण पाया जाता है उसे फोन या संदेश के माध्यम से तुरंत अलग-थलग रहने के निर्देश दिए जा
एं ताकि वह और लोगों में संक्रमण ना फैला सके। बैठक के दौरान यह भी निर्णय हुआ कि जिन व्यक्तियों में बीमारी के लक्षण नहीं आते हैं उन्हें अपने घर में अगर जगह है तो वहां, सामूहिक तौर पर अलग से बनाए गए स्थान पर अथवा अगर वह किसी होटल आदि में रहना चाहता है तो उसकी सुविधाएं भी की जाए तथा इन सभी के रेट निर्धारित कर दिए जाएं। ऐसे सभी व्यक्तियों की देखरेख लगातार की जाए और उसके लिए अधिकारियों की अलग से ड्यूटी लगाई जाए। प्राइवेट हॉस्पिटल्स को भी संक्रमित व्यक्तियों के इलाज की सुविधा देनी चाहिए और इस तरह के रोगियों के लिए आयुष्मान भारत के रेट के हिसाब से सरकार पैसा देगी। अतिरिक्त मुख्य सचिव के द्वारा यह भी निर्देश दिए गए कि किसी व्यक्ति के संक्रमण ग्रस्त पाए जाने पर उसके आसपास के लोगों से संपर्क कर उन्हें अलग-थलग किया जाए और इसके लिए टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाए। उनके द्वारा निर्देश दिए गए कि सभी तरह का डाटा ठीक ढंग से सभी पोर्टल पर डाला जाए और यह सुनिश्चित किया जाए कि डाटा में किसी तरह की कोई खामी ना हो और उसे लगातार अद्यतन किया जाए। उन्होंने कंटेनमेंट जोन के लिए भी अधिकारियों की अलग से जिम्मेदारी निर्धारित करने बारे कहा।
मंडल आयुक्त संजय जून ने बताया कि फरीदाबाद में सभी अधिकारियों की टीम एक चेन के रूप में कार्य कर रही है। जिला में पांच प्रकार की कमेटियां बनई गई हैं जो निरंतर जमीनी स्तर पर कार्य करेंगी तथा रिपोर्ट भी जल्द भेजना सुनिश्चित करेंगी। पुलिस आयुक्त केके राव ने पुलिस प्रबंधों से संबंधित तैयारियों के बारे में बताया। नगर निगम आयुक्त यश गर्ग ने बताया कि अब तक जिला में 5 हजार बेडिड की सुविधा तैयार की गई है, जिसे और बढ़ाया जा रहा है। इसके अलावा निगम कोविड संबंधी सभी एसओपी पर प्रो एक्टिविली कार्य कर रहा है। साफ-सफाई व सेनेटाइज का कार्य निरंतर जारी है।
उपायुक्त यशपाल ने बताया कि जिला में दो बार डोर-टू-डोर सर्वे हुआ तथा उसमें मिले आईएलआई के पैसेंट की पहचान कर उनके कोविड टेस्ट करवाए गए। जिला में कंटेनमेंट की संख्या 59 है। कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए पांच लेयर में कमेटियों का गठन किया गया है। शहरी क्षेत्र में करीब 4 लाख 50 हजार हाउसहोल्ड हैं। इस तहर 250 से 300 घरों का एक कलस्टर बनाया गया है, जिसमें बीएलओ स्तर पर बनाई गई लोकल कमेटियों को नियुक्त किया गया है। इस कलस्टर को एक वाट्सअप ग्रुप से भी जोड़ा गया है, ताकि सूचनाओं का आदान प्रदान जल्दी हो। एक व्यक्ति के पास सिर्फ 10 घरों की जिम्मेवारी सौंपी गई जो उनकी वास्तविक स्थिति के बारे में निरंतर अपडेट देता रहेगा। कंटेनमेंट जोन में व होम क्वारेंटाइन मरीजों तक जरूरी सेवाओं की आपूर्ति डोर पर ही की जाएगी। इन एरिया में जाने वाले वैंडर को सीमित रखा जाएगा तथा उसका रिकार्ड भी रखा जाएगा। एक सप्ताह में उसका रैपिड टेस्ट भी किया जाएाग। जिला संकट समन्वय की मीटिंग में निरंतर सभी बिंदुओं को अपडेट किया जाता है तथा जरूरी सुझाव के अनुसार तुरंत कार्यवाही अमल में लाई जा रही है। उन्होंने कहा कि कैमिस्ट की दुकानों व प्राइवेट अस्पतालों से भी निरंतर आईएलआई के मरीजों की सूचना गूगल स्प्रैड शीट पर ली जा रही है।
by : pramod goyal
चंडीगढ़।
पड़ोसी राज्य राजस्थान में हुए टिड्‌ढी दल के आक्रमण के बाद हरियाणा के अब नौ जिलों में हाई अलर्ट हो गया है। नरमा की फसल पर टिडि्डयां ज्यादा बैठती हैं। इसलिए कॉटन बेल्ट के किसानों को नुकसान का खतरा है। राजस्थान बॉर्डर के जिलों में कृषि विभाग ने एहतियातन कंट्रोल रूम बना दिए हैं। हरियाणा में टिड्‌डी दल के एंट्री गेट यही जिले हैं। कृषि विशेषज्ञों के अनुसार हमले का खतरा जून, जुलाई और बाद भी दिसंबर तक रहेगा। टोल फ्री नंबर 1800 180 2117 पर भी किसानों को टिड्डी दल बचाव बारे जानकारी दी जा रही है। हरियाणा बार्डर से राजस्थान के अंदर टिडि्डयों के 3 दल बताए जा रहे हैं। पहला छोटा टिड्‌डी दल राजस्थान के हनुमागढ़ जिले के कोहला फार्म में है, जो हरियाणा सीमा पर डबवाली से 40 किलोमीटर है। बड़ा दल गंगानगर जिले के बीझवाइला में है, जो 100 किलोमीटर दूर है। इसी तरह एक छोटा दल हनुमानगढ़ के धोलीपाल में हैं, जो 45 किलोमीटर दूर है। विशेषज्ञों का कहना है कि हवा के रुख पर निर्भर करता है कि टिडि्डयों को किस ओर ले जाए। अभी पूर्वा हवा के कारण यह दल हरियाणा से दूर है, लेकिन जुलाई में बरसात के सीजन में इनका हमला झेलना पड़ा सकता है। महेंद्रगढ़, भिवानी, रेवाड़ी, हिसार, भिवानी, चरखी दादरी व सिरसा, नूह और पलवल में सभी दमकल कर्मियों को अलर्ट पर रखा गया है

by : pramod goyal
फरीदाबाद।  एनसीआर इलाका कोरोना का हॉट स्पॉट बन गया है। शुक्रवार को प्रदेशभर में कुल कोरोना मरीजों की संख्या 1554 पहुंच गई। 56  नए मरीज आए, जिसमें से अकेले फरीदाबाद से 27  मरीज हैं। वहीं नूंह, पंचकूला में 1-1, महेंद्रगढ़ में 3 और करनाल में 4, रेवाड़ी में 5, सोनीपत में 15 नए मरीज आए हैं। गुड़गांव में 405, फरीदाबाद में 303 , सोनीपत में 1
95, झज्जर में 97, नूंह में 67, अंबाला में 47, पलवल में 51, पानीपत में 60, पंचकूला में 26, जींद में 27, करनाल में 46, रोहतक में 24, महेंद्रगढ़ में 39 रेवाड़ी में 23, सिरसा में 14, फतेहाबाद में 11, यमुनानगर में 9, हिसार और कुरुक्षेत्र में 26-26, भिवानी में 11, कैथल में 10, चरखी-दादरी में 8 संक्रमित मरीज हैं।
by : pramod goyal
रायपुर: 
छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अ
जीत जोगी का 74 वर्ष की उम्र में निधन हो गया. वह कई दिनों से अस्पताल में कोमा में थे.अजीत जोगी के बेटे अमित जोगी ने खुद ट्वीट कर पिता के निधन की जानकारी दी. उन्होंने ट्वीट किया, '20 वर्षीय युवा छत्तीसगढ़ राज्य के सिर से आज उसके पिता का साया उठ गया. केवल मैंने ही नहीं बल्कि छत्तीसगढ़ ने नेता नहीं, अपना पिता खोया है. माननीय अजीत जोगी जी ढाई करोड़ लोगों के अपने परिवार को छोड़ कर, ईश्वर के पास चले गए. गांव-गरीब का सहारा, छत्तीसगढ़ का दुलारा, हमसे बहुत दूर चला गया.' 
by : pramod goyal

फरीदाबाद, 29 मई। अपनी मांगों के समर्थन में आज चौथे दिन भी निगम मुख्यालय पर कर्मचारियों ने धरना जारी रखा। अब ये कर्मचारी आगामी एक जून को धरना देगें। आज के धरने की अध्यक्षता सेनिटेशन स्टाफ यूनियन के सचिव दीपचंद हंस ने की तथा मंच का संचालन कैशियर अनिल चिण्डालिया ने किया।
कर्मचारियों को सम्बोधित करते हुए नगरपालिका कर्मचारी कर्मचारी हरि
याणा के राज्य प्रधान नरेश कुमार शास्त्री, उप महासचिव सुनील कुमार चिण्डालिया, संघ के सदस्य सुभाष फेटमार, आडिट बिशन तेवतिया, जिला प्रधान गुरचरण खाण्डिया, एसकेएस के जिला सचिव बलवीर बालगुहेर, सैनिटेशन स्टाफ यूनियन के प्रधान राजेन्द्र दहिया ने कहा कि कोरोना के खिलाफ सैनिटेशन स्टाफ साधनों के अभाव में भी कर्मठता एवं ईमानदारी से अपना कार्य कर रहे है। उन्होंने कहा कि निगम प्रशाासन द्वारा सैनिटेशन स्टाफ के सहायक सफाई निरीक्षकों की सफाई निरीक्षक के पद पर पदोन्नति करने असिस्ट टू सफाई निरीक्षकों को 30 लीटर पैट्रोल देने, आऊटसोर्स पर लगे सहायक सफाई निरीक्षकों को स्किल्ड वेतन देने सहित आधा दर्जन मांगें लम्बित है।
संघ नेताओं ने निगम प्रशासन पर कोरोना योद्धाओं का मनोबल तोडऩे पर कहा कि प्रशासन द्वारा सैनिटाईजर, मास्क दस्ताने आदि सुरक्षा समान व सफाई के उपकरण झाडू, कोल्ची, कस्सी, बास, रेहड़ी रिक्शा पहिए चुना आदि भी उपलब्ध नहीं करवाया जा रहा है। निगम प्रशासन के इस रवैये से कर्मचारियों में भारी आक्रोश है। संघ ने अब दो जून से 9 जून तक निगम मुख्यालय पर क्रर्मिक भूख हड़ताल करने का ऐलान कर दिया है। यदि इसके बाद भी मांगों का समाधान नहीं हुआ तो 10 जून निगम मेयर तथा 11 जून को निगमायुक्त आवास का घेराव किया जायेगा।
आज के प्रदर्शन कर्मी नेता नानकचंद खैरालिया, अजीत रावत, सुशील कुमार, विशाल पारछा, देविन्द्र डाबर, हरबीर रावत, नरेन्द्र कीर, गजराज नागर, संजीव, नरेन्द्र नम्बरदार, प्रवीण, सुभाष चिण्डालिया, रामकिशोर त्यागी, वेद भड़ाना, परशराम अधाना, श्रीनंद ढकोलिया, जितेन्द्र छाबड़ा, दर्शन सिंह सोया, राकेश चिण्डालिया, रगबीर चौटाला, महेन्द्र कुण्डिया, देशराज डाबर, सूरजकीर, प्रेमपाल, वीरेन्द्र भण्डारी आदि उपस्थित थे।