HEADLINES


More

खोरी के लोगों को जमीन देने की जिम्मेवारी निभाए हरियाणा सरकार : गुरमुख सिंह

Posted by : pramod goyal on : Tuesday, 22 June 2021 0 comments
pramod goyal
//# Adsense Code Here #//

 हरियाणा : बहुजन समाज पार्टी हरियाणा प्रदेश अध्यक्ष एडवोकेट गुरमुख सिंह ने जिला फरीदाबाद में बसे गांव खोरी में सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर की जाने वाली तोडफोड का विरोध करते हुए कहा सरकार जनता के मकान तोडने से पहले उनको बसाने का काम करे, क्योंकि यहां की जनता ने इस जमीन पर अवैध कब्जा नहीं किया, बल्कि उन्होने जमीन खरीदकर मकान बनाए हैं। माननीय सुप्रीम कोर्ट ने हरियाणा सरकार को सख्त आदेश दिए हैं कि गांव खोरी में जितने भी मकान तोडे जाने हैं, उनके पुर्नवास की पूरी जिम्मेवारी हरियाणा की भाजपा सरकार की है, मगर माननीय सुप्रीम कोर्ट के आदेश के एक हफ्ता गुजर जाने के बाद भी जिला


प्रशासन और हरियाणा सरकार ने गरीब पीडित जनता को बसाने की कोई योजना नहीं बनाई। बसपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा यह दु:खद और अमानवीय है कि गांव खोरी में रहने वाले लोगों को मिलने वाली सरकारी बिजली और पानी के कनैक्शन 5 दिन पहले ही काट दिए हैं। उन्होने कहा कल्पना कीजिए इतनी गर्मी में वहां हजारों बच्चे और महिलाएं कैसे दिन-रात बिता रहे होंगे। 

बसपा अध्यक्ष गुरमुख सिंह ने कहा गांव खोरी में दस हजार परिवारों के जीवन भर की पूंूजी इन मकानों को बनाने में लगी हुई है। मकानों के टूटने के खौफ से अब तक कई लोग आत्म हत्या कर चुके हैं, और एक महिला की मौत सामान शिफट करते समय छत से गिरने से हो गई है। उन्होने कहा भाजपा सरकार की नाकामी के कारण गांव खोरी में रहने वाले 10 हजार परिवारों को उजाडने का काम किया जा रहा है। यह मकान यहां एक दो महीनों में नहीं बने, बल्कि पिछले 40-50 साल से लोग रह रहे हैं। लोगों के पास यहां वोटर कार्ड, बिजली मीटर, राशन कार्ड, डोमीशाईल और आधार कार्ड सहित अनेक दस्तावेज हैं। उन्होने कहा जिस समय यहां के लोकल प्रोपर्टी डीलरों ने इन लोगों को जमीन बेची थी उस समय जिला प्रशासन और वन विभाग क्यों चुप था। 
बसपा हरियाणा अध्यक्ष ने कांग्र्र्रेस-भाजपा को गरीब विरोधी बताते हुए कहा गांव खोरी में बने मकानों को अरावली वन संरक्षण के नाम पर तोडा जा रहा है, मगर इसी वन क्षेत्र में हजारों फ्लैट वाली इमारतें, स्कूल, कॉलेज और फार्म हाऊस बने हुए हैं, उनको तोडने का आदेश क्यों नहीं दिया गया। भाजपा सरकार गरीबों से सबका साथ सबका विकास कराने के नाम पर वोट लेती है, मगर अच्छे दिन केवल अमीरों के लाने का काम करती है। उन्होने माननीय सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीशों की पीठ से अपील करते हुए कहा हरियाणा सरकार को सख्त आदेश दे कि गरीब जनता को उजाडने से पहले बसाने का काम करे, ताकि जनता का न्यायालय पर से भरोसा न उठ जाए।

No comments :

Leave a Reply