HEADLINES


More

17 वर्षीय नाबालिग लड़की जोधपुर से बरामद, पुलिस ने परिजनों को सौंपा

Posted by : pramod goyal on : Monday, 5 July 2021 0 comments
pramod goyal
Saved under : , ,
//# Adsense Code Here #//

 फरीदाबादः- बच्चों का अपने परिजनों से नाराज होकर घर से निकल जाना एक आम बात हो चुकी है। बच्चा छोटी-छोटी बात को लेकर अपने माता-पिता से झगड़ा कर लेते हैं और बिना कुछ सोचे समझे कहीं भी चले जाते हैं। 


अपने बच्चों को न पाकर उनके माता-पिता को बहुत परेशानी का सामना करना पड़ता है। सारी खोजबीन करने के पश्चात आखिरकार परिजन पुलिस के पास पहुंचते हैं और पुलिस टीम दौड़-धूप करके खोए हुए बच्चों को ढूंढकर उनके परिजनों तक वापिस पहुंचाने का सराहनीय कार्य करते हैं।

इसी क्रम में सेक्टर-8 पुलिस चौकी क्षेत्र में रहनेवाली एक नाबालिग लड़की घर से बिना किसी को कुछ बताये चली गई। लड़की के घरवालों ने काफी खोजबीन की लेकिन नाबालिग लडकी के बारे में कुछ पता नहीं चला। 

इसके बाद परिजनों ने पुलिस में नाबालिग लडकी के लापता होने की सूचना दर्ज कराई जिसके पश्चात लड़की की तलाश शुरू कर दी गई।

पुलिस ने तकनीकी सहयोग व अन्य सूत्रों से प्राप्त सूचना के आधार पर नाबालिग लडकी को 04 जुलाई को जोधपुर से सकुशल बरामद किया। 

पुलिस द्वारा नाबालिग लडकी से बातचीत करने पर पता चला कि लड़की 10 वी कक्षा में पढती है वह अपनी माँ से किसी बात को लेकर नाराज हो गई थी। इसलिए बिना किसी को कुछ बताये वह अपनी बहन के घर जोधपुर जा रही थी।

लडकी को तकनीकी सहायता से जोधपुर रेलवे स्टेशन से ही बरामद कर उसकी बहन को फोन के द्वारा सूचना दी जिस पर उसकी बहन जोधपुर रेलवे स्टेशन पहुंची और अपनी छोटी बहन को समझा-बुझाकर पुलिस टीम के साथ फरीदाबाद भेज दिया।

लड़की को फरीदाबाद लाने के पश्चात पुलिस ने नाबालिग लडकी को परिवार वालों को पुलिस चौकी पर बुलाया। कानूनी प्रक्रिया पूरी कर लड़की को उसके परिजनों को सौंपते हुए चौकी प्रभारी ने कहा कि आज के युग में माता-पिता को अपने बच्चों का ध्यान रखना चाहिए अन्यथा, छोटी-मोटी बात पर नाराज होकर घर से जाने वालों को आपराधिक पृष्ठभूमि के लोग अपने विश्वास में लेकर गलत रास्ते की ओर धकेल देते हैं।
 
अपने बच्चे को सुरक्षित वापस प्राप्त करते ही नाबालिग के स्वजनों ने फरीदाबाद पुलिस के प्रति भरोसा जताते हुए आभार व्यक्त किया।

पुलिस आयुक्त श्री ओपी सिंह ने पुलिस टीम द्वारा किए गए सराहनीय कार्य के लिए प्रशंसा पत्र देकर प्रोत्साहित किया।

No comments :

Leave a Reply