HEADLINES


More

अपनी मांगों के समर्थन में आगनबाड़ी वर्कर एंड हेल्पर यूनियन ने विशाल सभा की

Posted by : pramod goyal on : Monday, 12 July 2021 0 comments
pramod goyal
Saved under : , ,
//# Adsense Code Here #//

 फरीदाबाद 12 जुलाई  आगनबाड़ी वर्कर एंड हेल्पर  यूनियन हरियाणा जिला कमेटी फरीदाबाद ने आज सोमवार को अपनी मांगों के समर्थन में सेक्टर 12 के पार्क में विशाल सभा की। सभा की अध्यक्षता जिला प्रधान देवेंद्र री शर्मा ने की जबकि कार्रवाई का संचालन जिला सचिव मालवती ने किया। प्रदर्शनकारियों को सीटू के जिला उपाध्यक्ष वीरेंद्र सिंह डंगवाल ने संबोधित किया। अपने संबोधन में उन्होंने राज्य सरकार पर आगनबाड़ी वर्करों और सहायिकाओं की उपेक्षा करने का आरोप लगाया।इसके तुरंत बाद उपायुक्त कार्यालय तक जोरदार प्रदर्शन करके महा निर्देशक महिला एवं बाल विकास विभाग हरियाणा, पंचकूला, के नाम 12 सूत्री मांगों का ज्ञापन डीडीपीओ फरीदाबाद को सौंपा गया। ज्ञापन में दर्ज  मांगों का उल्लेख करते हुए वीरेंद्र सिंह डंगवाल ने ब


ताया कि आंगनवाड़ी वर्कर्स को जब तक स्मार्ट फोन नहीं दिए जाते हैं। तब तक उन पर पोषण ट्रैक ऐप डाउनलोड करने का दबाव नहीं बनाया जाए। ऑनलाइन काम करने के लिए स्मार्ट फोन के रिचार्ज के लिए कम  से कम 500 रुपए  दिए जाए। इसके साथ साथ सभी वर्कर्स को स्मार्ट फोन चलाने का  प्रशिक्षण भी दिया जाए। जब तक यह सुविधा नहीं दी जाती है। तब तक ऑनलाइन काम का दबाव नहीं बनाया जाए। यूनियन की प्रधान देवेंद्ररी शर्मा ने चेतावनी दी है। कि जब तक वर्करों को सुविधाएं नहीं मिलेंगी  और स्मार्टफोन नहीं प्राप्त हो जाते हैं। तब तक सभी वर्कर ऑफलाइन ही काम करेंगी। इस विषय पर किसी भी अधिकारी का दबाव सहन नहीं किया जाएगा। यूनियन की दूसरी मांग में आंगनवाड़ी वर्कर हेल्पर को मानदेय हर महीने की 7 तारीख तक दिया जाए। इसके अलावा आंगनबाड़ी केंद्रों का किराया 6 महीने से लेकर 2 साल तक बकाया शेष है। इसका भुगतान तुरंत किया जाए। आंगनवाड़ी केंद्रों का किराया बढ़ाया जाए। इसके साथ-साथ राशन की सप्लाई समय पर मैन्यू के हिसाब से की जाए। और आंगनवाड़ी वर्कर हेल्पर को रिटायरमेंट के सभी लाभ दिया जाए। इसके अलावा आंगनवाड़ी वर्कर से सुपरवाइजर की प्रमोशन प्रणाली को लागू किया जाए। यूनियन की अन्य मांगों में आंगनवाड़ी केंद्रों में पानी के कैंपर, पंखे, झाड़ू, अलमारी, तमाम जरूरी सामान दिए जाएं। इसके अलावा पीएमबीवाई के परफॉर्मा को भरने के लिए मेहताना  जो वर्कर को 200 रुपए और हेल्पर के लिए 100 रुपए के हिसाब से देय बनता है। इसका भुगतान किया जाए यूनियन की दसवीं मांग है। वर्कर और हेल्पर को विभाग में समायोजित किया जाए।यूनियन की मांग है कि वर्करों हेल्पर से आईसीडीएस की छह सेवाएं पांच उद्देश्य के अतिरिक्त और कोई काम नहीं लिया जाए। देश के प्रधानमंत्री ने वर्ष 2018 में वर्कर के मानदेय में 15 सौ की बढ़ोतरी पर हेल्पर के वेतन में साढे 7 सौ रुपए की बढ़ोतरी प्रति महीने की थी। लेकिन हरियाणा सरकार ने इसे लागू नहीं किया। इसको भी तुरंत लागू किया जाए। आज के प्रदर्शन को सीटू के जिला प्रधान निरंतर पराशर, जिला सचिव लालबाबू शर्मा, हुड्डा जन स्वास्थ्य कर्मचारी यूनियन के सर कल सेक्रेटरी धर्मवीर वैष्णव, सुरेंद्र री, सीमा, मालवती, सुनीता, सुमन, यादव, गीता, कमलेश ने भी संबोधित किया।

No comments :

Leave a Reply