HEADLINES


More

लोगों के स्वास्थ्य की जांच तेजी से की जा रही है - उपायुक्त यशपाल

Posted by : pramod goyal on : Friday, 21 May 2021 0 comments
pramod goyal
Saved under : , ,
//# Adsense Code Here #//

 फरीदाबाद, 21 मई।  उपायुक्त यशपाल ने बताया कि कोविड 19 के दृष्टिगत गांवो में स्वास्थ्य विभाग व


अन्य गठित टीमों द्वारा हरियाणा विलेजर्स जनरल हैल्थ स्कीम के तहत लोगों के स्वास्थ्य की जांच तेजी से की जा रही है। इसके साथ-साथ होम आइसोलेट मरीजों को किट भी उपलब्ध करवाई गई हैं। शेष अन्य मरीजों को होम आइसोलेट किट भी जल्द उपलब्ध करवा दी जायेंगी। कोविड के तहत यहां पर सभी व्यवस्थाएं सुचारू रूप से जारी हैं। यह जानकारी उपायुक्त ने वी.सी. के माध्यम से मुख्यमंत्री मनोहर लाल को दी। इससे पहले मुख्यमंत्री ने चंडीगढ़ से आयोजित वी.सी. के माध्यम से कोविड 19 के तहत किये जा रहे कार्यों के बारे में भी सम्बन्धित जिलों के उपायुक्तों से विस्तार से जानकारी ली।

उपायुक्त ने बताया कि जिला में कोविड 19 के दृष्टिगत समय-समय पर जो भी हिदायतें जारी की जा रही हैं, उसकी अनुपालना के तहत कार्य किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज वी.सी. में जो दिशा-निर्देश मिले हैं, उसके तहत इस विषय से जुड़े कार्यों को तेजी से करवाने का काम किया जायेगा। 
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने वी.सी. के माध्यम से हरियाणा विलेजर्स जनरल हैल्थ स्कीम के तहत कार्यों को और तेजी से करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि कोरोना का ग्राफ पिछले कुछ दिनों से कम हुआ है। नये एक्टिव केसों में गिरावट आई है। उन्होंने कहा कि अब पोस्ट कोविड प्रॉब्लम यानि ब्लैक फंगस व संभावित तीसरी वेव को ध्यान में रखते हुए हमें सभी तैयारी पहले से करनी सुनिश्चित करनी है। उन्होंने कहा कि ब्लैक फंगस को राज्य में अधिसूचित बीमारी घोषित किया गया है। उन्होंने कहा कि ऐसे सभी मरीजों का मेडिकल कालेज में उपचार किया जायेगा, जिसके लिये उन्हें दिशा-निर्देश भी जारी कर दिये गये हैं। ब्लैक फंगस को लेकर जिला में क्या स्थिति है, कितने मरीज हैं, फैलाव का कारण क्या है, इस बात पर उपायुक्तों को निगरानी रखनी है। साथ ही स्वास्थ्य विभाग भी ब्लैक फंगस पीडि़त मरीज का मेडिकल कालेज में जो इलाज चल रहा है, उस पर भी नजर रखे। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि इस माहामारी के दौरान बी.पी. एल.  व अन्य गरीब परिवारों को इलाज में राहत देने के लिये सरकार द्वारा कदम उठाए गये हैं। निजी अस्पताल इन नियमों की पालना कर रहे हैं, इस पर भी हमें ध्यान रखना है। सरकार द्वारा कोविड मरीजों से सम्बन्धित बैडों के रेट भी निर्धारित किये गये हैं। कोई निजी अस्पताल इससे ज्यादा तो नही वसूल रहा है, इस पर सभी उपायुक्त ध्यान रखें। उन्होंने कहा कि बी.पी.एल. परिवारों को निर्धारित मापदंडों के तहत राशन वितरण करने का जो निर्णय लिया गया है और वह सम्बन्धित परिवार को पूरा मिल रहा है, उस पर भी निगरानी रखें और सभी को राशन पूरा मिलना चाहिए। 
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने वी.सी. में यह भी कहा कि कोविड 19 के दृष्टिगत प्रशासनिक स्तर पर जो कोई भी नया कार्य किया जाता है, उसकी रिपोर्ट मीडिया के माध्यम से लोगों को मिले।
वीडियो कॉन्फेंस में गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि कोविड 19 के दृष्टिगत सम्बन्धित सभी बेहतर तरीके से कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि होम आइसोलेट मरीजों की संख्या के मुताबिक जो किटें उन्हें दी जानी हैं, वे कुछ स्थानों पर पूरी नही बंटी हैं, इस कार्य को प्राथमिकता से करेंं। उन्होंने कहा कि हम सबके सांझे प्रयासों से कोरोना को हराने का काम किया जायेगा। 
वीसी के उपरांत उपायुक्त ने सम्बन्धित अधिकारियों को कहा कि जो दिशा-निर्देश वी.सी. में मिले हैं, उनकी अनुपालना के तहत कार्य करना सुनिश्चित करें। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को यह भी कहा कि जो कोरोना पॉजिटिव मरीज हैं, उन्हें बैडों के रेटों की जानकारी भी दें ताकि कोई भी उनसे निर्धारित रेट से अधिक न वसूले। उपायुक्त ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को कहा कि कोविड मरीज जो बी.पी.एल. परिवारों से सम्बन्धित हैं, उनका डाटा भी अपलोड करें। 
बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त सतबीर मान, एसडीएम परमजीत चहल एसडीएम बड़खल पंकज सेतिया, सीटीएम पुलकित मल्होत्रा, डीडीपीओ राकेश मोर, सीएमओ रणदीप सिंह पुनिया, डिप्टी सीएमओ डॉ राम भगत सहित अन्य अधिकारीगण मौजूद रहे।

No comments :

Leave a Reply