HEADLINES


More

हार्डवेयर चौक स्थित भीमराव अंबेडकर पार्क के सौंदर्यीकरण कार्य जल्द शुरू करवाने व बीके चौक का नाम भगवान बाल्मीकि चौक रखने की मांग को लेकर निगमायुक्तयश से मिलें

Posted by : pramod goyal on : Tuesday, 10 November 2020 0 comments
pramod goyal
Saved under : , ,
//# Adsense Code Here #//

 फरीदाबाद, 10 नवम्बर। हार्डवेयर चौक स्थित डॉक्टर भीमराव अंबेडकर पार्क के सौंदर्यीकरण का कार्य जल्द शुरू करवाने व बीके चौक का नाम बदल कर भगवान बाल्मीकि चौक रखने की मांग को लेकर दलित अधिकार मंच के संयोजक नरेश कुमार शास्त्री के नेतृत्व में नगरपालिका कर्मचारी संघ, हरियाणा के राज्य उपमहासचिव सुनील कुमार चिंडालिया, जिला


प्रधान गुरचरण सिंह खांडिया, सफाई कर्मचारी यूनियन के प्रधान बलबीर सिंह बालगुहेर, वरिष्ठ उप प्रधान श्रीनन्द ढकोलिया ने निगमायुक्तयश गर्ग से मिलें। दलित नेताओं ने निगमायुक्त को ज्ञापन सौंपते हुए चेतावनी दी है कि यदि 15 दिन के अंदर-अंदर  सौंदर्यीकरण का कार्य शुरू किया जाए अन्यथा दलित अधिकार मंच निगम मुख्यालय पर अनिश्चितकालीन आंदोलन शुरू करेगा। इस आंदोलन में तमाम दलित संगठनों के साथ सफाई कर्मचारी संगठन एवं अन्य एससीबीसी के कर्मचारी भी शामिल होंगे। श्री शास्त्री ने कहा कि निगम प्रशासन सौंदर्यकरण के कार्य में ढिलाई बरत रहा है जिसको हरगिज बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि हर सूरत में 14 अप्रैल से पहले पार्क के सौंदर्यीकरण का कार्य पूरा किया जाना चाहिए। निगम आयुक्त यश गर्ग ने दलित नेताओं को आश्वासन देते हुए कहा कि नगर निगम ने डॉ बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर पार्क के सौंदर्यीकरण के लिए लगभग 50 लाख रुपये का एस्टिमेट तैयार किया था लेकिन अब सौंदर्यीकरण का कार्य निगम के खजाने से न करवा कर फरीदाबाद शहर के बड़े उद्योगपति केसी लखानी द्वारा करवाया जाएगा। उन्होंने इस कार्य को करवाने के लिए स्वयं निगमायुक्त से विगत दिनों मुलाकात कर इच्छा जाहिर की है वही बीके चौक का नाम बाल्मीकि चौक रखने का कार्य भी नगर निगम की नामकरण कमेटी के द्वारा स्वीकृत कर दिया गया है। बीके चौक का नाम बाल्मीकि चौक रखने की प्रक्रिया जल्द पूरी कर ली जाएगी।  

गौरतलब है कि हार्डवेयर चौक स्थित डॉ बाबा साहब भीमराव अंबेडकर पार्क का सौंदर्यीकरण करने की मांग लगातार पिछले 1 वर्ष से अनेकों दलित संगठन कर रहे हैं लेकिन निगम प्रशासन इसमें ढिलाई बरत रहा है।

No comments :

Leave a Reply