HEADLINES


More

जे.सी. बोस विश्वविद्यालय 25 वर्ष की सेवा पूरी करने वाले कर्मचारियों को करेगा सम्मानित

Posted by : pramod goyal on : Saturday, 12 September 2020 0 comments
pramod goyal
Saved under : , ,
//# Adsense Code Here #//

 फरीदाबाद, 12 सितम्बर - जे.सी. बोस विज्ञान और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद द्वारा अपने स्थापना दिवस के अवसर पर संस्थान में 2


5 वर्ष की सेवा पूरी करने वाले कर्मचारियों को सम्मानित किया जायेगा।

जे.सी. विश्वविद्यालय जोकि वर्ष 1969 में एक इंडो-जर्मन डिप्लोमा संस्थान के रूप में अस्तित्व में आया था और पहले वाईएमसीए इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग के रूप में जाना जाता था, वर्ष 2009 में राज्य सरकार द्वारा विश्वविद्यालय के स्तर पर अपग्रेड कर दिया गया था, 16 सितम्बर, 2020 को अपना 52वां स्थापना दिवस और 12वां विश्वविद्यालय दिवस मनाएगा। 
इस संबंध में जानकारी देते हुए, कुलपति प्रो दिनेश कुमार ने कहा कि विश्वविद्यालय में कर्मचारियों की उत्कृष्ट उपलब्धि तथा सेवाओं को मान्यता देने की परंपरा रही है। विश्वविद्यालय ने हाल ही में संस्थान के रूप में अपने 50 वर्ष पूरे किए हैं और वर्ष 2019 को स्वर्ण जयंती वर्ष के रूप में मनाया है। विश्वविद्यालय ने पिछले कुछ वर्षों के दौरान कई उपलब्धियां हासिल की हैं जिनमें विभिन्न राष्ट्रीय एजेंसियों द्वारा विभिन्न मानदंडों पर मान्यता, अनुसंधान एवं शैक्षणिक विकास और ढांचागत विकास शामिल हैं। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय का स्थापना दिवस इन उपलब्धियों को मनाने और भावी योजनाओं मंथन करने का दिन है।
डीन स्टूडेंट वेलफेयर डॉ. लखविंदर सिंह ने कहा कि इस अवसर पर विश्वविद्यालय द्वारा कई गतिविधियां आयोजित करने की योजना है। कोरोना महामारी के कारण सभी गतिविधियाँ डिजिटल मोड में आयोजित होंगी। हालांकि, इस अवसर पर सरकार द्वारा निर्धारित मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) और सामाजिक दूरी का पालन करते हुए विश्वविद्यालय परिसर में एक छोटा सा समारोह भी आयोजित किया जाएगा, जिसमें सीमित संख्या में विश्वविद्यालय के कर्मचारी हिस्सा लेंगे।
उन्होंने बताया कि स्थापना दिवस समारोह में दिल्ली प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. योगेश सिंह मुख्य अतिथि होंगे। विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) करण सिंह यादव, वाईएमसीए इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग के पूर्व निदेशक-प्रिंसिपल डॉ. अशोक कुमार अरोड़ा और पूर्व कुलसचिव डॉ. (श्रीमती) शिमला इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि होंगी। उन्होंने बताया कि कार्यक्रम की अध्यक्षता कुलपति प्रो दिनेश कुमार करेंगे।

No comments :

Leave a Reply