HEADLINES


More

नगर निगम कर्मचारियों की भूख हड़ताल दूसरे दिन भी जारी रही

Posted by : pramod goyal on : Wednesday, 3 June 2020 0 comments
pramod goyal
Saved under : , ,
//# Adsense Code Here #//

फरीदाबाद, 3 जून।  नगर निगम कर्मचारियों की भूख हड़ताल आज दूसरे दिन भी जारी रही। नगर पालिका कर्मचारी संघ, हरियाणा के राज्य प्रधान नरेश कुमार शास्त्री, राज्य उप महासचिव सुनील कुमार चिण्डालिया, जिला प्रधान गुरचरण खाण्डिया, सर्व कर्मचारी संघ, हरि
याणा के जिला सचिव बलवीर ङ्क्षसह बालगुहेर ने भूख हड़ताली कर्मचारियों को फूल-मालाएं पहनाकर धरने पर बैठाया। आज की इस भूख हड़ताल की अध्यक्षता ड्राईवर यूनियन के प्रधान रामकिशोर त्यागी व आऊटसोर्स, ठेकाप्रथा चालकक यूनियन के प्रधान वेद भड़ाना ने संयुक्त रूप से की तथा मंच का संचालन जिला वरिष्ठ उपप्रधान श्रीनंद ढकोलिया ने किया। कल सीवर विभाग के कर्मचारी निगम मुख्यालय पर क्रर्मिक भूख हड़ताल करेगें। निगम कर्मचारियों ने भोजन अवकाश के समय निगम आयुक्त की हठधर्मिता के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और प्रदर्शन किया। 

कर्मचारियों को सम्बोधित करते हुए नगर पालिका कर्मचारी संघ, हरियाणा के राज्य प्रधान नरेश कुमार शास्त्री, राज्य उपमहासचिव सुनील कुमार चिण्डालिया, जिला प्रधान गुरचरण खाण्डिया, चालक यूनियन के प्रधान रामकिशोर त्यागी व वेद भड़ाना ने कहा कि निगम द्वारा प्राईवेट एजेन्सियों से कार, बुलेरों गाड़ी, पानी के टैंकर व सीवर सेफ्टी टैंकर हायर की हुई है। इन गाडिय़ों को निगम कर्मचारी चला रहे है तथा डीजल, पैट्रोल भी निगम द्वारा दिया जा रहा है। इसमें लाखों रूपए की हेरा-फेरी चल रही है। कर्मचारी नेताओं ने निगमायुक्त पर ड्राईवरों की न्यायोचित मांगों आऊटसोर्सिंग के चालकों को डीसी रेट देने, निगम द्वारा समय पर वर्दी नहीं दी जाती है। इसलिए वर्दी वेतन में देने, तेल साबुन देने, सेफ्टी उपकरण मास्क, सैनिटाईज व दस्ताने देने, व्हीकल इस्पेक्ट के पद सृजित करने सहित आदि मांगों की अनदेखी की जा रही है।
आज की क्रमिक भूखा हड़ताल में अन्य के अलावा सोमपाल झिझोटिया, परशुराम अधाना, सूरज रंगा, असफर खान, सतबीर सिंह, एसकेएस के नेता बल्लू चिण्डालिया, दर्शन सोया, मुकेश बेनीवाल, राकेश चिण्डालिया, रघुबीर चौटाला, जितेन्द्र छाबड़ा, दान सिंह, प्रेमपाल, महेन्द्र कुण्डिया, देशराज डाबर, सूरजकीर, नरेश भगवाना, ललित कुमार, केन्द्रीय कमेटी की नेता कमला, शकुन्तला, ज्ञानवती आदि मौजूद थे।

No comments :

Leave a Reply