HEADLINES


More

सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने उपायुक्त कार्यालय फरीदाबाद के समक्ष जोरदार प्रदर्शन किया

Posted by : pramod goyal on : Monday, 6 January 2020 0 comments
pramod goyal
Saved under : , ,
//# Adsense Code Here #//


फरीदाबाद 6 जनवरी, जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के परिसर में गत रविवार की रात को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के असामाजिक तत्वों के द्वारा वामपंथी छात्रों पर कातिलाना हमले के विरोध में आज सोमवार को भारत की कम्युनिस्ट पार्टी मार्क्सवादी के बैनर तले  सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने उपायुक्त कार्यालय फरीदाबाद के समक्ष जोरदार प्रदर्शन किया। प्रदर्शनका
रियों का नेतृत्व मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के जिला सचिव कामरेड शिवप्रसाद ने किया। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार सभी कार्यकर्ता राजस्थान भवन पर एकत्रित हुए यहां से नारे लगाते हुए लघु सचिवालय पहुंचे। प्रदर्शनकारी असामाजिक तत्वों को गिरफ्तार करो अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की  की गुंडागर्दी नहीं चलेगी के नारे लगा रहे थे। प्रदर्शनकारियों को सीपीएम के जिला कमेटी सदस्य वीरेंद्र सिंह डंगवाल सिंह ,सीपीआई के आर एन सिंह ,एवम् इंकलाबी मजदूर केंद्र के मुन्ना प्रसाद संबोधित किया,। अपने संबोधन में उन्होंने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के गुंडा तत्वों के द्वारा  जेएनयू के  छात्रों और शिक्षकों पर लाठी-डंडे और लोहे की रॉड  से कातिलाना हमला करने का आरोप लगाया।डंगवाल ने इस घटना को सुनियोजित बताते हुए कहा कि दिल्ली पुलिस की मौजूदगी में नकाबपोश लोग विश्वविद्यालय में कैसे घुस गए। इन अपराधिक प्रवृत्ति के  लोगों ने छात्रावासों में जाकर विद्यार्थियों को निर्ममता के साथ मारना पीटना शुरू कर दिया। असामाजिक तत्व  छात्रों को  जान से मारना चाहते थे।  उन्होंने दिल्ली पुलिस के रवैये  की भी कड़े शब्दों में निंदा क्यों कि  दिल्ली पुलिस  कानून व्यवस्था  बनाने में विफल रही। उपद्रवी यूनिवर्सिटी परिसर में उत्पात मचाते रहे लेकिन पुलिस प्रशासन मू क़ दर्शक बनकर के तमाशा देखता रहा। इस प्रदर्शन को मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी जिला कमेटी के सदस्य  विजय झा, निरंतर पराशर एवं लालबाबू शर्मा , इंटक के प्रधान वीरेंद्र चौधरी   ने भी संबोधित किया। उन्होंने घटना के लिए जिम्मेदार दोषियों को तुरंत गिरफ्तार करने  की मांग की। उन्होंने शिक्षण संस्थाओं में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के द्वारा की जा रही गुंडागर्दी पर रोक लगाने के लिए ठोस कदम उठाने पर भी जोर दिया।

No comments :

Leave a Reply