HEADLINES


More

नाराज निगम कर्मचारी काले बिल्ले लगाकर व हाथों में काले झंडे लेकर सडक़ों पर उतरे

Posted by : pramod goyal on : Wednesday, 3 July 2019 0 comments
pramod goyal
Saved under : , ,
//# Adsense Code Here #//
फरीदाबाद, 3 जुलाई। हरियाणा सरकार से नाराज नगर निगम के सैकड़ों कर्मचारी काले बिल्ले लगाकर व हाथों में काले झंडे लेकर सडक़ों पर उतरे। अब किया 7 जुलाई को  शहरी स्थानीय मंत्री कविता जैन के सोनीपत स्थित आवास पर राज्य स्तरीय प्रदर्शन का ऐलान। कल की भंति आज भी निगम कर्मचारियों ने भोजन अ
वकाश के समय निगम मुख्यालय पर नगरपालिका कर्मचारी संघए हरियाणा के जिला प्रधान गुरचरण खाण्डिया की अध्यक्षता में विरोध सभा की। सभा के बाद कर्मचारियों ने हरियाणा सरकार के खिलाफ  नारे लगाते हुए बीके चौक से नीलम चौक तक काले झण्डों के साथ जोरदार प्रदर्शन किया।
कर्मचारियों को सम्बोधित करते हुए नगरपालिका कर्मचारी संघए हरियाणा के राज्य प्रधान नरेश कुमार शास्त्री ने हरियाणा सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार व संघ के बीच 11 जुलाई 2017, 24 मई, 20 जून व चार अक्टूबर 2018 को हुई वाताओं में सरकार ने चुनावी वायदों को दोहराते हुए सफाई, सीवर, फायर, माली, बेलदार, क्लर्क, सैन्ट्रेशन इंस्पेक्टर, जूनियर इंजीनियर, वाटर सप्लाई, इलैक्ट्रिशन सहित अन्य सभी चतुर्थ व तृतीय श्रेणी के कर्मचारियों को ठेकाप्रथा से मुक्त कर विभाग के रोल पर रखने, फायर विभाग में भर्ती रद्द कर 1366 ड्राईवर व फायरमैनों को फायर आपरेटरों के पदों पर समायोजित करने, कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने, एक्सग्रेसिया पॉलिसी बहाल करने, समान काम.समान वेतन लागू करने, रिक्त पदों पर भर्ती करने, ईएसआईसी व ईपीएफ  के घोटाले की जांच स्टेट विजीलैंस से करवाने सहित अन्य मांगों पर भी समझौता हुआ था, लेकिन सरकार ने एक वर्ष बाद भी मांगों को लागू नहीं किया।
श्री शास्त्री ने चेतावनी दी है कि यदि सरकार ने मानी गई मांगों को पूरा नहीं किया तो सरकार को पालिका कर्मचारियों के वर्ष 1996-1997 जैसे बड़े आन्दोलन का सामना करना पड़ेगा।
आज की विरोध सभा को अन्य के अलावा कर्मी नेता नानकचंद खैरालिया, बलवीर सिंह बालगुहेर, सोमपाल झिझोटिया, जितेन्द्र, विनोद घरौंड़ा, महेश फौगाट,  नरेश भगवाना, माया, ललिता, शकुन्तला आदि ने भी कर्मचारियों को सम्बोधित किया।

No comments :

Leave a Reply