HEADLINES


More

*मठिया श्रीराम में कोटे के वित्तरण में व्याप्त अनियमितता के खिलाफ पत्रकार मोहन तिवारी ने लिखित शिकायत पत्र भेज कर किया कार्यवाही की मांग*

Posted by : pramod goyal on : Tuesday, 23 March 2021 0 comments
pramod goyal
Saved under : , ,
//# Adsense Code Here #//

 लखनऊ। 23 मार्च ,2021,। सोमवार को कुशीनगर जिले के चर्चित तमकुहीराज तहसील सेवरही विकास खण्ड के ग्राम सभा मठिया श्रीराम के समाजसेवी व वरिष्ठ पत्रकार मोहन तिवारी ने अपने ग्रामसभा में सरकारी सस्ते गल्ले के वित्तरण में व्याप्त अनियमितता के खिलाफ व ग्राम सभा के लोगों की मूलभूत जनसमस्या के निराकरण के लिए जिलाधिकरी एस राज लिग्नम के अलावा मुख्य विकास अधिकारी,जिला आपूर्ति अधिकारी व अन्य को लिखित शिकायत पत्र भेज कर कार्यवाही की मांग की है।

आपको बता दें समाजसेवी व वरिष्ठ पत्रकार मोहन तिवारी ने

शिकायत पत्र में यह आरोप लगाया है कि मठिया श्रीराम ग्रामसभा में सरकारी सस्ते गल्ले की दुकानों पर राशन के वित्तरण में घोर अनियमितता व्याप्त है, अनुज्ञाप्ति धारक कोटेदारो द्दारा राशन का वित्तरण पारदर्शी तरीके से नही किया जा रहा है बल्कि पूर्व प्रधानों द्दारा दबंगई पूर्वक और मनमाने तरीके से अनुज्ञाप्ति धारक कोटेदारों के नाम पर स्वंय अपने-अपने दरवाजे पर राशन का वित्तरण किया जा रहा है वो भी मनमाने तरीके से अनुज्ञाप्ति धारक कोटेदार पूर्व ग्राम प्रधान के आगे बेवस व लाचार है। पूर्व ग्राम प्रधानों द्दारा अपने-अपने दरवाजो पर राशन के वित्तरण में भोली भाली जनता का शोषण व दुर्व्यवहार किया जा रहा है। राशन  प्राप्त करने के लिए 2- 3 दिनों तक राशन कार्ड धारकों के अंगूठे के निशान लेने के लिए दौड़ाया जा रहा है एयर उसके बाद राशन पाने के लिए भी 2-3 दिनों तक ग्रामीणों को बुलाया जाता है जिससे ग्रामवासियों द्दारा उपलब्ध करायी जाने वाली राशन की सुविधा प्राप्त करने के लिए ,कीमती समय बर्बाद होता है, यही नही गुटबंदी के कारण बहुत से राशन कार्ड धारक सिर्फ इसलिए राशन पाने से वंचित हो जाते है क्योंकि राशन के वित्तरण सार्वजनकि स्थान पर ना करके पूर्व प्रधानों द्दारा अपने दरवाजों से किया जाता है जहाँ दूसरे गुट के लोगों को अपमानित होना पड़ता है इसके अलावा राशन वित्तरण के तोल में भी गड़बड़ी की जाती है।
समाजसेवी व वरिष्ठ पत्रकार मोहन तिवारी ने कहा है कि  मठिया श्रीराम के ग्रामीणों के मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार है इसी के चलते वह जिलाधिकारी के अलावा सभी विभागीय अधिकारियों से लिखित शिकायत करके यह मांग किया है कि मठिया श्रीराम में राशन का वित्तरण सार्वजनकि स्थान पर अनुज्ञाप्ति धारक कोटेदार द्दारा ही सुनिश्चित किया जाय।

No comments :

Leave a Reply