HEADLINES


More

फरीदाबाद पुलिस की बहादुर महिला पुलिसकर्मियों ने संभाला फरीदाबाद की सुरक्षा का जिम्मा

Posted by : pramod goyal on : Monday, 8 March 2021 0 comments
pramod goyal
Saved under : , ,
//# Adsense Code Here #//

 फरीदाबाद: अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर पुलिस आयुक्त श्री ओपी सिंह ने नई पहल करते हुए महिला पुलिसकर्मियों को आज हर पुलिस विभाग में इंचार्ज का कार्यभार सौंपते हुए समाज में महिला सशक्तिकरण का संदेश दिया है। 


यूनाइटेड नेशन द्वारा महिला सशक्तिकरण और लिंग समानता को बढ़ावा देने के लिए 8 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के रूप में मनाया जाता है।

फरीदाबाद की बहादुर महिला पुलिस कर्मचारियों ने फरीदाबाद के नागरिकों की सुरक्षा जिम्मेवारी अपने कंधों पर उठाते हुए अपने आप को देश सेवा में समर्पित किया।

 महिला पुलिस कर्मियों ने केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर, पुलिस आयुक्त, पुलिस उपायुक्त, सहायक पुलिस आयुक्त, सेशन जज आदि प्रमुख प्रशासनिक अधिकारियों के निवास स्थान और कार्यालयों की सुरक्षा की जिम्मेवारी उठाई।

फरीदाबाद के सभी पुलिस थानों में महिला पुलिसकर्मियों ने मुख्य अनुसंधान अधिकारी के रूप में कार्यभार संभालते हुए महिलाओं को शिक्षित होकर आत्मनिर्भर बनने के लिए प्रोत्साहित किया।

महिला पुलिसकर्मियों ने पुलिस नाकों, मार्केट, पार्क, चौराहों, भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में जाकर महिलाओं को उनके अधिकारों और महिला विरुद्ध अपराधों के प्रति जागरूक किया।

पुलिस आयुक्त श्री ओपी सिंह ने अपने कार्यालय के गेट पर तैनात महिला पुलिस कर्मचारियों को गुलदस्ता और मिठाई देखकर अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं दी।

इस उपलक्ष पर सीही गांव की रहने वाली 18 वर्षीय छात्रा भव्या मान को एक दिन के लिए सेक्टर 8 थाने कि एसएचओ के तौर पर नियुक्त किया गया।

छात्रा पुलिस में भर्ती होकर समाज की सेवा करने के लिए उत्साहित हैं और 1 दिन की एसएचओ बनकर पुलिस प्रशासन की कार्यप्रणाली का अनुभव करना चाहती थी इसलिए पुलिस आयुक्त श्री ओपी सिंह ने उन्हें 1 दिन के लिए सेक्टर 8 थाने के एसएचओ का कार्यभार सौंपा।

उन्होंने कहा कि महिलाएं किसी भी मामले में पुरुषों से कम नहीं है। एक तरफ जहां महिलाएं विभिन्न क्षेत्रों में देश का नाम रोशन कर रही हैं वही फरीदाबाद पुलिस की महिला कर्मचारी अपने परिवार के साथ साथ फरीदाबाद के नागरिकों की सुरक्षा का कार्य भार अपने कंधों पर उठाए हुए हैं।

इस अवसर पर फरीदाबाद पुलिस द्वारा रन फॉर वुमन एंपावरमेंट का आयोजन किया गया जिसमें महिलाओं के साथ पुलिस आयुक्त ने भी मैराथन में हिस्सा लिया।

सेक्टर 76 की दीपाली पुत्री दीपक ने इस मैराथन में प्रथम और दीपाली की बहन दीप्ति ने तीसरा स्थान प्राप्त किया वहीं संजय कॉलोनी की रहने वाली काजल पुत्री सत्यनारायण ने दूसरा स्थान प्राप्त किया।

इस कार्यक्रम में प्रथम आने वाली दीपाली को 2100, द्वितीय स्थान पर आने वाली काजल को 1100 और तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले दीप्ति को 1100 रुपए के साथ तीनों लड़कियों को ट्रॉफी देकर सम्मानित किया।

मारी छोरियां के छोरों से कम है प्रचलित फिल्म दंगल को पुलिस लाइन फरीदाबाद में दर्शाया गया जिससे महिलाएं प्रोत्साहित होकर आगे आए और समाज में अपना और अपने परिवार का नाम रोशन करें।

फरीदाबाद के विभिन्न स्थानों पर महिला पुलिसकर्मियों द्वारा नारी शक्ति के प्रति जागरूकता अभियान चलाया गया जिसमें महिला सशक्तिकरण और महिला विरुद्ध अपराध के प्रति महिलाओं को जागरूक किया गया।

घरेलू हिंसा और यौन शोषण से प्रताड़ित महिलाओं की सुरक्षा के बारे में जागरूक करते हुए महिला विरुद्ध अपराधों की सूचना पुलिस को देकर समाज में महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने का संदेश दिया गया।

No comments :

Leave a Reply