HEADLINES


More

भारत को मातृ शक्ति की बदौलत से ही अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अलग पहचान मिल रही है - उपायुक्त

Posted by : pramod goyal on : Monday, 8 March 2021 0 comments
pramod goyal
Saved under : , ,
//# Adsense Code Here #//

 फरीदाबाद, 08 मार्च। मातृ शक्ति विश्व की सबसे बड़ी शक्ति है। भारत को मातृ शक्ति की बदौलत से ही अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अलग पहचान मिल रही है। यह बात उपायुक्त यशपाल ने आज सोमवार को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर सेक्टर-12 के कन्वेंशन हॉल में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर जिला स्तरीय समारोह में उपस्थित महिलाओं को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित करते हुए कही।

 


जिला स्तरीय अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस का आयोजन महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा किया गया था। उपायुक्त यशपाल ने कहा कि मातृत्व शक्ति के बिना कोई भी मुकाम हासिल करना आसान नहीं है। उन्होंने कहा कि हरियाणा की पहचान भी मातृशक्ति से है। उन्होंने ठेठ हरियाणवी अंदाज में कहा कि “के हाल है, ताई आले तेरा” में एक प्यारी सी झलक भी महिला शक्ति की निखर कर आती है। उपायुक्त यशपाल ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में सबसे पहले जिला स्तरीय अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस समारोह में उपस्थित सभी महिलाओं को बधाई दी। उपायुक्त ने कहा कि मै बधाई देता हूं कि जिला चाइल्ड प्रोटेक्शन अधिकारी व उनकी टीम को जिन्होंने जिला में गत 1 से मार्च तक विभिन्न कार्यक्रम आयोजित करके लोगों में जागरूकता फैलाने का काम किया।

 

“यत्र नारी पूज्यंतेतत्र रमंते देवता” की कहानी को सार्थक करते हुए उपायुक्त यशपाल ने कहा कि महिला में सहनशीलता पुरूषों के मुकाबले अधिक होती है। उन्होंने कहा कि किसी भी पुरुष और किसी भी परिवारकिसी भी संगठन की सफलता के पीछे महिला का विशेष योगदान होता है। उपायुक्त ने स्वयं की सफल सफलता का श्रेय अपनी माता और दादी को दिया है। उपायुक्त यशपाल ने कहा कि महिलाएं प्रेरणा की स्रोत होती है। हर महिला में कोई न कोई खूबी अवश्य होती है। कार्यक्रम में एनजीओसीसीआईरेड क्रॉसस्वास्थ्य शिक्षापुलिसपंचायत विभाग,  महिला एवं बाल विकास अन्य विभागों की उन महिलाओं को सम्मानित किया जिन्होंने विभिन्न क्षेत्रों में बेहतर कार्य करके अपनी पहचान बनाई है।

No comments :

Leave a Reply