HEADLINES


More

गौधन का दोहन कर खुला छोड़ देते हैं, उन पर कानूनी कार्यवाही के साथ साथ जुर्माने का भी प्रावधान हो

Posted by : pramod goyal on : Thursday, 11 February 2021 0 comments
pramod goyal
Saved under : , ,
//# Adsense Code Here #//

 अखिल भारतीय ब्राह्मण सभा, के राष्ट्रीय अध्य्क्ष सुरेंद्र  शर्मा बबली ने अपने कार्यालय में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि, जो लोग गौधन का दोहन कर उनको खुला छोड़ देते हैं उन पर कानूनी कार्यवाही के साथ साथ जुर्माने का भी प्रावधान होना चाहिए। बबली ने कहा कि आज सड़कों पर पशु खुले घूम रहे हैं। जिस कारण रोज हादसे हो रहे हैं, इस बात की जानकारी मीडिया के माध्यम से शासन प्रसासन को भी होती है। लेकिन अधिकारी आंखे मूंदे बैठे हैं। 


इससे पहले तत्कालीन जिला उपायुक्त समीरपाल सरों, और तत्कालीन निगम कमिश्नर सोनल गोयल ने शहर को आवारा पशु मुक्त घोषित कर दिया था, लेकिन तब भी पशु सड़कों पर घूमते थे और आज भी घूम रहे है। शहर मात्र कागजों में ही आवारा पशु मुक्त हुआ था। 

साथ ही छह गौशालाओं का निर्माण किया गया था। लेकिन आज इन गौशालाओं के होते हुए भी आवारा पशु बहुतायात में खुले में हादसों को न्योता दे रहे हैं। गौशाला को कितना चंदा मिल रहा है, उसका कितना हिस्सा गौधन व गौशालाओं के विकास में लगाया जा रहा है, इसका कोई हिसाब प्रसासन के पास नही है।

पत्राकारों से बात करते हुए सुरेंद्र शर्मा बबली ने हाल ही में गुलाम नबी आजाद के उनकी राज्यसभा से पर दिए विदाई भाषण पर टिप्पणी करते हुए कहा कि, हिंदुत्व सदियों से चला आ रहा है, हिंदुत्व था, हिंदुत्व है और हिंदुत्व रहेगा, रही बात कश्मीरी पंडितों पर सदन में अफसोस करने पर, इस बात का संज्ञान वो पहले लेते तो बहुत अच्छा होता। जब कश्मीर में हिन्दुओ पर अत्याचार हो रहे थे, तब उनको संज्ञान लेना चाहिए था, खैर अगर अब भी वो इस विषय पर कुछ करना चाहते हैं तो कश्मीरी पंडितों के घर वापसी में सरकार का सहयोग करें। इस मौके पर राजू दादा, योगेश शर्मा, कृष्ण पराशर एडवोकेट, करण पराशर, भारत भूषण, रामजी लाल, सूरज प्रकाश विनोद कुमार उपस्थित रहे।

No comments :

Leave a Reply