HEADLINES


More

श्रद्धांजलि सभा में उपस्थित सदस्यों ने शहीद किसानों को पुष्पांजलि अर्पित की

Posted by : pramod goyal on : Sunday, 20 December 2020 0 comments
pramod goyal
Saved under : , ,
//# Adsense Code Here #//

 फरीदाबाद 20 दिसंबर कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर चल रहे आंदोलन के दौरान जिन किसानों की मौत हो गई थी उनको श्रद्धांजलि देने के लिए रविवार को सेंटर ऑफ इंडियन ट्रेड यूनियन जिला कमेटी फरीदाबाद ने शहीदी दिवस का आयोजन किया।इस श्रद्धांजलि सभा में  उपस्थित सदस्यों ने शहीद किसानों को  पुष्पांजलि अर्पित की। और दो मिनट मौन धारण


किया।  इस सभा में सीटू के विभिन्न कारखानो के मजदूर  के अलावा बड़ी संख्या में  परियोजना के कर्मचारीयों ने भी भाग लिया। सीटू के बेसुलुवा कॉलोनी स्थित यूनियन कार्यालय में आयोजित इस श्रद्धांजलि सभा की अध्यक्षता जिला प्रधान निरंतर पराशर ने की ।सभा का संचालन जिला सचिव लालबाबू शर्मा ने किया। शहीदी दिवस के बाद एक सभा की गई। सभा को सम्बोधित करते हुए सीटू के जिला उपाध्यक्ष वीरेंद्र सिंह डंगवाल ने बताया कि किसानों की कुर्बानी एक दिन रंग जरूर लाएगी। और सरकार  को तीनों कानून रद्द करने पड़ेंगे। यही देश के किसानों की मांग है। इन्हीं मांगों के लिए कड़ाके की ठंड के बावजूद किसान आंदोलन के मैदान में बैठा हुआ है। उन्होंने कहा कि केंद्र की सरकार किसानों के आंदोलन की जानबूझकर अनदेखी कर रही। किसान को न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारंटी नहीं दे रही है। पहले इसी सरकार ने स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को पूरी तरह से लागू करने का वादा किया था इसमें किसान की लागत पर पचास प्रतिशत मुनाफे के साथ उसकी पैदावार का भुगतान करने का प्रस्ताव था। लेकिन इस रिपोर्ट को रद्दी की टोकरी में डाल दिया गया। और किसानों के खिलाफ  तीन कानून बना दिए। इन कानूनों का किसानों को कोई फायदा नहीं होगा। किसानों ने इसकी मांग भी नहीं की थी। इन कानूनों के लागू होने से भविष्य में खेती घाटे का सौदा हो जाएगी। बैठक में किसानों के समर्थन में गांव में सभाएं करने का निर्णय लिया गया। ताकि आंदोलन में अधिक से अधिक किसानों को शामिल किया जा सके। आज की शोक सभा में  शिव प्रसाद, विजय कुमार झा, वीरेंद्र पाल, रवि गुलिया, कमलेश चौधरी, सुधा पाल, हेमलता, नीलम जोशी, पूजा गुप्ता, जीनत जमाल, महेश द्विवेदी, के पी सिंह, विभूति सिंह, प्रेम, राम सागर, भोपाल सिंह, राज भाटी, अरविंद कुमार, टेकचंद भडाणा, ने भी भाग लिया।


No comments :

Leave a Reply