HEADLINES


More

ग्राम पंचायतों में नियुक्त सफाई कर्मचारियों को पीपीई किट तथा मास्क उपलब्ध करवाए गए

Posted by : pramod goyal on : Thursday, 11 June 2020 0 comments
pramod goyal
//# Adsense Code Here #//
 फरीदाबाद। उपायुक्त यशपाल ने बताया कि कोविड-19 के प्रति सुरक्षा के मद्देनजर स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण की ओर से जिला की सभी ग्राम पंचायतों में नियुक्त सफाई कर्मचारियों को पीपीई किट तथा मास्क उपलब्ध करवाए गए हैं। जिला में 116 ग्राम पंचायतों में लगे 225 सफाई कर्मचारियों को पीपीई किट व सेनेटाइजर और मास्क वितरण किये गया है।
 उन्होंने बताया कि जिला प्र
शासन का प्रयास है कि गांवों में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए जहां ग्राम पंचायतों के माध्यम से जरूरी सेवाओं के कार्य करने वाले सफाई कर्मचारियों को दस्ताने भी उपलब्ध करवाए गए हैं। इसके अलावा सोडियम हाईपोक्लोराइड दवा का छिड़काव भी करवाया जा रहा है। सभी गावों में पंचायतों को 6 हजार 960 मास्क बंटवाए गए हैं। प्रत्येक ग्राम पंचायत में  60-60 सूती वस्त्र के मास्क वितरित किये गये है जो कि धोकर पुनः प्रयोग किए जा सकेंगे । 
 इसके अलावा प्रेरको द्वारा गावों में विजिट करने के दौरान सफाई कर्मचारियों तथा स्वच्छता बारे कोरोना वायरस कोविड-19 बारे जागरूक किया जा रहा है । वहीं गांव में  लोगों को राज्य सरकार व केंद्र सरकार द्वारा बनाए गए कोरोना वायरस कोविड-19  की हिदायतों के अनुसार  दिशा निर्देशों का पालन करें, मास्क लगाकर ही घर से निकले, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें ,कम से कम 2 गज की दूरी बनाकर रखें ।
कोरोना वायरस का कोई इलाज नहीं है। केवल बचाव ही इलाज है। लोगों को रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने  के लिए जागरूक किया जा रहा है। उन्होंने  लोगों को बताया कि आरोग्य सेतु एप का इस्तेमाल करें जिससे कि किसी कोरोना से संक्रमित लोगों के संपर्क में आने पर आपको  सचेत कर दिया जाता है । इसके अलावा  हाथों को समय-समय पर साबुन से धोते रहें, हाथों पर सेनेटाइजर का इस्तेमाल करें। अपने हाथों को मुंह, आंख और नाक पर लगाने से बचें, यह वायरस शरीर में मुंह, आंख और नाक द्वारा ही प्रवेश करता है। सब्जी व फलों को नमक के पानी से अच्छी से धोएं। उन्होंने कहा कि आयुष मंत्रालय भारत सरकार द्वारा बताए गए काढ़ा का इस्तेमाल करें। लोगों को जागरूक करने में निरंतर प्रयासरत है। कोरोना महामारी को देखते हुए लोगों को इससे बचाव के लिए जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है।

No comments :

Leave a Reply