HEADLINES


More

गुस्साए कर्मचारियों ने बृहस्पतिवार को जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन किया

Posted by : pramod goyal on : Thursday, 4 June 2020 0 comments
pramod goyal
Saved under : , ,
//# Adsense Code Here #//
फरीदाबाद।
पीटीआई सहित हजारों कर्मियों को नौकरी से निकालने, विभागों को निजी हाथों में सौंपने,श्रम कानूनों को खत्म करने,डीए,एलटीसी व नई भर्तियों पर रोक लगाने से गुस्साए विभिन्न विभागों के कर्मचारियों ने बृहस्पतिवार को जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन किया गया। इससे पहले एनआईटी व बल्लभगढ़ खंडों में भी प्रर्दशन किया गया। सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के आह्वान पर आयोजित इन प्रदर्शनों में सभी विभागों के कर्मचारियों ने भाग लिया और केन्द्र एवं राज्य सरकार की कर्मचारी एवं मजदूर विरोधी नीतियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए प्रर्दशन किया। प्रर्दशन के बाद सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष लांबा, जिला प्रधान अशोक कुमार ,सचिव बलबीर सिंह बालगुहेर व अध्यापक नेता भीम सिंह के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने प्रधान मंत्री व मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन उपायुक्त यशपाल यादव को सौंपा। प्रदर्शनों में कोरोना योद्वा कहलवाने वाले स्वास्थ्य विभाग के दस हजार से ज्यादा कर्मचारियों को नौकरी से निकालने की निंदा की और 3200 सिक्योरिटी गार्ड, सफाई कर्मचारियों आदि ठेका कर्मचारियों की छंटनी पर रोक लगाने की मांग की। प्रदर्शनों में कमजोर पैरवी के चलते सुप्रीम कोर्ट से केस हार चुके 1923 पीटीआई को सेवा सुरक्षा प्रदान करने का कोई रास्ता निकालने की मांग की।  जिला मुख्यालय पर आयोजित प्रर्दशन का नेतृत्व प्रदेशाध्यक्ष सुभाष लांबा, कोषाध्यक्ष युद्वबीर सिंह खत्री, करतार सिंह, खुर्शीद अहमद, धर्मवीर वैष्णव, बल्लभगढ़ खंड में हुए प्रर्दशन का नेतृत्व रमेश तेवतिया, अशोक कुमार,राजबेल देसवाल, सुभाष देसवाल, एनआईटी खंड में नरेश कुमार शास्त्री, बलबीर सिंह बालगुहेर आदि नेता कर रहे थे।

No comments :

Leave a Reply