HEADLINES


More

मंडलायुक्त फरीदाबाद ने 17 प्राइवेट स्कूलों की 38 शिकायतों पर जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा की गई कार्रवाई की रिपोर्ट मांगी

Posted by : pramod goyal on : Tuesday, 12 May 2020 0 comments
pramod goyal
//# Adsense Code Here #//


फरीदाबाद। चेयरमैन, फीस फंड रेगुलेटरी कमेटी FFRC कम मंडलायुक्त फरीदाबाद ने 17 प्राइवेट स्कूलों की प्राप्त 38 शिकायतों पर जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा की गई कार्रवाई की रिपोर्ट मांगी है। एफएफआरसी ने जिला शिक्षा अधिकारी को लिखा है कि उन
के पास  मॉडर्न डीपीएस की 9 शिकायत,  डीएवी 14 की 8 शिकायत, रयान की तीन शिकायत, डीपीएस 81 की दो शिकायत तथा जीवा, डीपीएस 19, डायनेस्टी, मानव रचना 14, रेयान, विद्या मंदिर, मॉडर्न 17 एंथोनी, अग्रवाल, अरावली 43 आदि स्कूलों की कुल 38, शिकायतें प्राप्त हुई है। जिनमें अभिभावकों ने  बताया है कि स्कूल प्रबंधक बढ़ाई गई ट्यूशन फीस मांग रहे हैं। तिमाही फीस देने के लिए भी कह रहे हैं। ट्यूशन फीस में कई फंडों को मर्ज कर दिया गया है जिनका ब्रेकअप मांगने पर अभिभावकों को नहीं दिया जा रहा है ।स्कूल प्रबंधकों द्वारा यह भी धमकी दी जा रही है कि मांगी गई फीस जमा न कराने पर बच्चों की ऑनलाइन क्लास बंद कर दी जाएगी।
हरियाणा अभिभावक एकता मंच ने इसे देर से उठाया हुआ कदम बताते हुए कहा है कि जिला शिक्षा अधिकारी को स्कूल प्रबंधक कुछ नहीं समझते हैं। जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा भेजे गए अब तक के पत्रों  को उन्होंने रद्दी की टोकरी में डाल दिया है। चेयरमैन एफएफआरसी को यह पूरा अधिकार है वे सीधे स्कूलों को नोटिस भेजकर उनसे जवाब मांग सकता है। और मनमानी साबित होने पर उनकी मान्यता रद्द करने के लिए प्रिंसिपल सेक्रेट्री शिक्षा को लिख सकता है।।मंच का मानना है कि यह सिर्फ एक कागजी कार्रवाई है जब तक स्कूलों के खिलाफ कोई उचित कार्रवाई होगी तब तक स्कूल प्रबंधक डरा धमका कर अभिभावकों से वह पूरी फीस वसूल लेंगे जिनकी मांग वह कर रहे हैं। मंच ने मुख्यमंत्री ,शिक्षा मंत्री, प्रिंसिपल सेक्रेट्री शिक्षा महावीर सिंह को पत्र लिखकर FFRC व जिला शिक्षा अधिकारी के इस प्रकार के ढुलमुल रवैया की शिकायत की है।

No comments :

Leave a Reply