HEADLINES


More

अवैध निर्माण करने वालों पर निगम का रवैया नरम क्यों ----?

Posted by : pramod goyal on : Monday, 17 February 2020 0 comments
pramod goyal
//# Adsense Code Here #//
फरीदाबाद। अवैध निमार्ण करने वालों पर निगम कर्मचारियों का रवैया नरम नजर आ रहा है। एनआईटी नम्बर एक- 1 फ- 31 बीपी में बन रहे व्यवसा
यिक निमार्ण पर निगम के कर्मचारियोंं ने दिखावे मात्र कार्रवाही की, लेकिन इसके  बावजद यंहा आज भी अवैघ निमार्ण जारी है । एक तरफ तो निगम प्रशासन राजस्व का रोना रोता रहता है और वहीं उसके कर्मचारी व अधिकारी अवैध निमार्ण के नाम पर लाखों- करोडों के वारे-न्यारें कर रहे है। यहीं कारण है कि निगम की आर्थिक स्थिति खस्ता है। एनआईटी हो या फिर बल्लभगढ व ओल्ड फरीदाबाद क्षेत्र सभी जगह रिहायशी जमीन पर धडल्ले से व्यवसायिक अवैध निमार्ण सत्ताधारी नेताओं की मिलिभगत से हो रहे है। जिन पर कार्रवाही करने में निगम अधिकारी स्वयं को असहाय महसूस कर रहे है। बढ़ते अवैध निमार्ण के चलते निगम अधिकारी व कर्मचारी भी सत्ताधारी नेताओं के इस भ्रष्टाचार में गोते लगा रहे है। एक नम्बर एनआईटी नम्बर एक- 1 फ- 31 बीपी में बन रहे व्यवसायिक निमार्ण पर अभी तक निगम प्रशासन की ओर से कोई कार्रवाही नहीं की गई है। दिखावे मात्र को कुछ बनी हुई दुकानों को सील कर दिया गया है, जबकि वहीं मल्टीस्टोरी कम्पलैक्स बिना किसी रोक- टोक के आज भी बन रहा है। इससे साफ जाहिर होता है कि हरियाणा की भाजपा नीत सरकार किस तरह को सुशासन जनता को परोस रहीं है। एक तरफ तो बेचारे बेघर झुज्गी वालों को बिना पूर्व सूचना के धाराशाही करके बेघर कर दिया जाता है और दूसरी तरफ पैसे वाले लोग सरकार व प्रशासन को ढेंगा दिखाकर अवैघ निमार्ण कर रहे है।

No comments :

Leave a Reply