HEADLINES


More

गुरूकुल इन्द्रप्रस्थ मैनेजिंग कमेटी की बैठक में जीएसटी नम्बर लेने पर विचार

Posted by : pramod goyal on : Saturday, 10 August 2019 0 comments
pramod goyal
Saved under : , ,
//# Adsense Code Here #//
फरीदाबाद, 10 अगस्त। अदालती आदेशों पर आज दो साल बाद गुरूकुल इन्द्रप्रस्थ मैनेजिंग कमेटी की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में जीएसटी नम्बर लेने व अनाधिकृत रूप से किराया वसूल रहे लोगों के खिलाफ कार्यवाही अमल में लाने बावत चर्चा की गई। आर्य प्रतिनिधि सभा के सदस्यों के बैठक के अनुपस्थित रहने के चलते मदों को स्वीकृत नहीं किया जा सका। बैठक की अध्यक्षता वरिष्ठ अधिवक्ता एवं गुरूकुल मैनेजिंग कमेटी के उपाध्यक्ष एस.आर.जाखड़ द्वारा की गई। बैठक में मैनेजिंग कमेटी के महासचिव एवं वरिष्ठ अधिवक्ता ओ.पी. शर्मा के अलावा स्कूल के प्रिंसीपल आचार्य ऋषिपाल, अशोक भारद्वाज व पी.के.मित्तल भी विशेष रूप से उपस्थित थे।
बैठक की कार्यवाही शुरू करते हुए महासचिव ओ.पी. शर्मा द्वारा गुरूकुल इन्द्रप्रस्थ मैनेजिंग कमेटी का अलग से आयकर व जीएसटी नम्बर लेने तथा गुरूकुल की सम्पत्ति पर अनाधिकृत रूप से बाहरी लोगों द्वारा किराया वसूलने के मद उपस्थित सदस्यों के ध्यानार्थ लाए गए। इसके अलावा श्री शर्मा ने गुरूकुल में गायों की घटती संख्या व शिक्षण संस्थान में छात्रों की घटती संख्या पर भी चिंता जताई। बैठक में चूंकि आर्य प्रतिनिधि सभा के सात सदस्य नियुक्त किए गए है तथा उनके अनुपस्थित रहने पर कोरम पूरा नहीं हो सका तथा प्रस्तावित मदों को स्वीकृति प्रदान नहीं की जा सकी। बैठक के संदर्भ में श्री शर्मा ने बताया कि अदालती आदेशों के बाद दो साल बाद यह पहली बैठक आयोजित की गई तथा बैठक के संदर्भ में प्रधान रामपाल आर्य व अन्य सदस्यों को भी सूचित कर दिया गया था और स्वयं रामपाल आर्य ने भी अपने पत्र में लिखा है कि बैठक 10 की बजाए 19 अगस्त को आयोजित की जाएगी। साथ ही पत्र में ओ.पी. शर्मा को महासचिव मानने या ना मानने के संदर्भ में कोड किए जाने पर उन्होंने अदालती अवमानना का केस दायर करने के बावत भी कहा है।
क्या कहते है प्रधान रामपाल आर्य
बैठक को गैर कानूनी बताते हुए श्री आर्य ने कहा कि बैठक के संदर्भ में उन्हें कोई सूचना नहीं दी गई तथा बैठक 19 अगस्त को आयोजित की जाएगी।

No comments :

Leave a Reply