HEADLINES


More

बकाया करों की वसूली करने के लिए निगम अधिकारियों को आदेश दिए

Posted by : Pramod Goyal on : Thursday, 11 October 2018 0 comments
Pramod Goyal
Saved under : , ,
//# Adsense Code Here #//
फरीदाबाद, 11 अक्टूबर। नगर निगम के अतिरिक्त आयुक्त धीरेन्द्र
खड़गटा ने बकाया करों की वसूली करने के लिए निगम के क्षेत्रिय एवं कराधान विभाग के अधिकारियों को आदेश दिए है कि वे बकाया करदाताओं विशेषकर डिफाल्टर वाणिज्य/औद्योगिक इकाईयों, शैक्षणिक संस्थानों व चिकित्सा संस्थानों और अन्य बड़ी इकाईयों से संपत्ति कर व ट्रेड लाईसेंस की बकाया फीस की वसूली के लिए कड़े कदम उठाएं। उन्होंने बैठक में उपस्थित अधिकारियों को भी कड़ी चेतावनी दी की करों की वसूली में ढील बरतने वाले अधिकारियों के विरूद्ध कड़ी अनुशासनिक कार्यवाही की जाएगी। इस बैठक में अतिरिक्त आयुक्त के अतिरिक्त संयुक्त आयुक्त संदीप अग्रवाल, क्षेत्रिय एवं कर अधिकारी (मु0) रतन लाल रोहिल्ला, क्षेत्रिय एवं कर अधिकारी जोन-2 और सीफएसी इंचार्ज सुमन मल्होत्रा, क्षेत्रिय एवं कर अधिकारी जोन-3 सुनीता रानी, भूमि एवं अनुज्ञप्ति अधिकारी विकास कन्हैया, सृष्टि बब्बर उपस्थित थे।
निगम के अतिरिक्त आयुक्त धीरेन्द्र खड़गटा ने आज यहां बताया कि एक ओर तो नगर निगम कमजोर आर्थिक स्थिति का सामना कर रहा है, वहीं दूसरी ओर शहर के बड़े-बड़े डिफाल्टर करदाता निगम के सैकड़ों करोड़ों रूपये दबाए बैठे हैं, जिसकी वसूली हर हालात में सुनिश्चित की जाएगी। उन्होंने ऐसे सभी बकाया करदाताओं से भी अपील की है कि वह अपना बकाया कर बिना किसी देरी के जमा करवाएं अन्यथा उनकी इकाईयों को निगम के द्वारा सील कर दिया जाएगा।
श्री खड़गटा ने चिंता व्यक्त करते हुए बताया कि फरीदाबाद जैसे औद्योगिक शहर में चालू वित वर्ष में केवल अभी तक ट्रेड लाईसेंस प्राप्त करने वाली ईकाईयों की संख्या केवल तीन हजार है जबकि वास्तव में 2 लाख से अधिक इकाईयां ट्रेड लाईसेंस का भुगतान की परिधि में आती है। अतः बैठक में क्षेत्रिय एवं कराधान अधिकारियों को लाईसेंस फीस की वसूली के लिए डिफाल्टर इकाईयों को सील करने के आदेश दिए । उन्होंने यह भी बताया कि बकाया करों की वसूली के लिए लगाए जाने वाले कैम्पों की संख्या बढ़ाई जाएगी, जिससे कि आम जनता अपने-अपने घरों के नजदीक टैक्सों का भुगतान आसानी से कर सकें।

No comments :

Leave a Reply